चंदौली, जागरण संवाददाता। बबुरी थाने चनहटा गांव में विवादित जमीन पर रविदास प्रतिमा रखे जाने के बाद बुधवार को दो पक्षों में विवाद हो गया। सूचना मिलते ही भारी संख्या में पुलिस मौके पर पहुंच गई। प्रतिमा को तत्काल हटवा दिया गया। पुलिस ने जानकारी के बाद विवाद में शामिल चार आरोपितों को हिरासत में ले लिया है। सीओ की मौजूदगी में जमीन की पैमाइश कराने के बाद ही पुलिस कोई कार्रवाई करेगी। वहीं क्षेत्र में तनाव बने होने की वजह से पुलिस की भी तैनाती की गई है। 

चंदौली जिले के चनहटा गांव में खाली जमीन को लेकर दो पक्षों में काफी दिन से विवाद चल रहा था। कुछ दिनों पूर्व राजस्व विभाग की टीम ने पैमाइश कर नंबर और नवीन परती का चिह्नांकन भी कर दिया था। बुधवार को एक पक्ष ने विवादित जमीन पर रविदास जी की प्रतिमा स्थापित कर दी। इस बात की जानकारी होते ही दूसरा पक्ष भी मौके पर पहुंच गया। देखते ही देखते इस प्रकरण को लेकर दोनों पक्षों में विवाद होने लगा। यह देख ग्रामीणों की भीड़ एकत्रित हो गई। इसी बीच किसी ने इस मामले की जानकारी पुलिस को दे दी।

इस बाबत सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और प्रतिमा को हटवा दिया। जानकारी होते ही सीओ अनिरुद्ध सिंह राजस्व विभाग की टीम के साथ पहुंच गए। विवादित जमीन की दोबारा पैमाइश कराई जा रही है। तनाव को देखते हुए गांव में फोर्स तैनात कर दी गई है। सीओ ने बताया कि विवादित जमीन की पैमाइश कराई जा रही है। बगैर प्रशासन की अनुमति के कभी भी प्रतिमा स्थापित नहीं की जा सकती। चार लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। जांच होने के बाद इस मामले में पुलिस विधिक कार्रवाई करेगी। हालांकि, सुरक्षा और सतर्कता के लिहाज से मौके पर सुरक्षा बल की तैनाती की गई है। 

Edited By: Abhishek Sharma

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट