बिजनौर, जेएनएन। राम का चौराहा स्थित पंचमुखी मंदिर में भवानी माता की मूर्ति तोड़ने के आरोपित दो मुस्लिम युवकों को लोगों ने जमकर पीटा। पुलिस उन्हें बामुश्किल छुड़ाकर थाने ले गई। सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस तैनात कर दी गई है। दोनों के खिलाफ तहरीर दी गई है।

बुधवार सुबह 9.30 बजे संप्रदाय विशेष के दो युवक पंचमुखी मंदिर पहुंचे। पुजारी से तिलक लगवाने के बाद परिसर में घूमने लगे। इसी बीच मंदिर में भवानी माता की मूर्ति टूटी दिखी। कमेटी पदाधिकारियों व श्रद्धालुओं ने युवकों पर ईंट से मूर्ति तोड़ने का आरोप लगाया और उनकी पिटाई करने लगे।

एसपी संजीव त्यागी, एसपी सिटी लक्ष्मी निवास मिश्र, एसडीएम सदर बृजेश कुमार व सीओ सिटी अरुण कुमार समेत कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंची। एसपी ने सख्त कार्रवाई का आश्वासन देकर लोगों को शांत किया। पुलिस बामुश्किल युवकों को छुड़ाकर हल्दौर थाने ले गई और चार घंटे पूछताछ की। उधर, मूर्ति टूटने की सूचना से आक्रोशित हिदू संगठनों के कार्यकर्ता व अन्य काफी लोग भी पहुंच गए। कार्रवाई को लेकर हंगामा किया।

नाम बदलकर मंदिर पहुंचे थे दोनों

जांच में सामने आया कि दोनों युवक हिदू नाम से मंदिर में पहुंचे थे। इस दौरान दो छात्राएं भी उनके साथ थीं, लिहाजा पुलिस इस बिदु पर भी जांच कर रही है। मंदिर कमेटी पदाधिकारी अखिल कुमार अग्रवाल ने दोनों युवकों के खिलाफ मूर्ति तोड़ने की तहरीर दी है। शहर कोतवाल आरसी शर्मा ने बताया कि आरोपित शहर के मोहल्ला मिर्दगान निवासी आदिल पुत्र राशिद व मोहल्ला कस्साबान निवासी शादाब पुत्र यासीन के खिलाफ तहरीर मिली है। जांच की जा रही है।

Posted By: Jagran