जेएनएन, बिजनौर। जिले में बुधवार को 127 बूथों पर कोरोना से बचाव का टीकाकरण किया गया, जिसमें 9703 लोगों को कोरोनारोधी टीका लगाया गया। अब तक जिले में कुल 2323070 लोगों को टीके लगाए जा चुके हैं।

गुरुवार को नूरपुर, स्योहारा, किरतपुर, नजीबाबाद, में सात-सात, नहटौर में 11, धामपुर में आठ, हल्दौर में 14, जलीलपुर में 13, अफजलगढ़ में 10, कोतवाली देहात में 20 चंदक में 15 एवं बिजनौर अरबन व नगीना क्षेत्र में चार-चार स्थानों पर बूथ लगाए गए। बुधवार को 13 फ्रंट लाइन वर्कर ने दूसरी डोज लगवाई। 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के 2149 लोगों को पहली तथा 3800 लोगों को दूसरी, 45 से 60 वर्ष आयु वर्ग के 556 लोगों को पहली, 1852 लोगों को दूसरी डोज एवं 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के 370 लोगों को पहली तथा 745 लोगों को वैक्सीन की दूसरी लगाई गई। जिले में अब तक लोगों को 2323070 डोज लगाई जा चुकी है। इनमें से 1746152 लोगों को पहली तथा 576918 लोगों को दूसरी डोज लगाई जा चुकी है। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. अशोक कुमार का कहना है कि वर्तमान में 79282 डोज शेष है।

बिना सुरक्षा के लगा रहे वैक्सीन

जिले में अब तक लोगों को 2323070 कोरोना से बचाव की डोज लगाई जा चुकी है। टीकाकरण में जुटे स्वास्थ्य कर्मियों को विभाग की ओर से न तो ग्लब्स दिए जा रहे है और न ही सैनिटाइजर ही दिया जा रहा है। मास्क भी कर्मचारी अपना ही इस्तेमाल कर रहे है। इतना ही नहीं एक स्वास्थ्य कर्मी ने बताया कि टीकाकरण के बाद लाभार्थियों पैरासिटामोल की दो गोलियां दी जाती है, वह भी विभाग उपलब्ध नहीं करा रहा है। जिससे लाभार्थियों में रोष है।

Edited By: Jagran