बरेली, जेएनएन। Postal Ballot in Garbage Cart : उत्तर प्रदेश के परसा खेड़ा स्थित मतगणना स्थल पर कूड़े की गाड़ी में सादे पोस्टल बैलेट के पत्र ले जाए जा रहे थे। इस पर वहां मौजूद सपा कार्यकर्ताओं की नजर पड़ गई। जिस पर सपाइयों ने हंगामा शुरू कर दिया था। बाद में पुलिस फोर्स ने मौके पर पहुंचकर सपाइयों को समझाबुझाकर शांत कर दिया था। इस मामले पर चुनाव आयोग ने सख्ती दिखाते हुए एसडीएम समेत दो अधिकारियों को उनके पद से हटा दिया है। मामले में उप जिला निर्वाचन अधिकारी वीके सिंह और बहेड़ी एसडीएम पारुल तरार को हटा दिया गया है। चुनाव आयोग ने एडीएम वित्त एवं राजस्व संतोष बहादुर सिंह को उप जिला निर्वाचन अधिकारी का प्रभार दिया है। अपर उप जिलाधिकारी सदर राजेश चंद्रा को बहेड़ी एसडीएम बनाया गया है। वही वहां के आरओ भी होंगे। जिलाधिकारी शिवाकांत द्विवेदी ने दी जानकारी।

मंगलवार शाम करीब पांच बजे एसडीएम बहेड़ी पारुल तरार की गाड़ी के साथ नगर पालिका परिषद बहेड़ी की कचरा उठाने वाली गाड़ी पहुंची। वेयरहाउस पर मौजूद सपा कार्यकर्ताओं ने एसडीएम की गाड़ी तो जाने दी लेकिन कूड़े वाली गाड़ी को रोक लिया। उसे खुलवा कर देखा तो उसके अंदर देखा तो तीन बॉक्स में खाली बैलेट पेपर, मोहर समेत अन्य सामान रखे थे। यह देख परसाखेड़ा वेयरहाउस पर सपाइयों ने हंगामा शुरू कर दिया। सपा के तमाम बड़े नेता, प्रत्याशी व कार्यकर्ता वेयरहाउस पहुंच गए। डीएम और एसएसपी समेत कई थानों की फोर्स भी पहुंच गई।

सपा के जिलाध्यक्ष शिवचरण कश्यप, महानगर अध्यक्ष शमीम खान सुल्तानी, अगम माैर्य समेत तमाम प्रत्याशी व कार्यकर्ता परसाखेड़ा पहुंच गए। जिला प्रशासन पर बेईमानी का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। डीएम शिवाकांत द्विवेदी, एसएसपी रोहित सिंह सजवाण समेत तमाम अफसर मौके पर पहुंचे। सपा के शहर प्रत्याशी राजेश अग्रवाल, बहेड़ी के प्रत्याशी अताउर रहमान, भोजीपुरा के प्रत्याशी शहजिल इस्लाम, मीरगंज के प्रत्याशी सुल्तान बेग के पहुंचने के बाद कार्यकर्ताओं ने फिर से हंगामा शुरू कर दिया। प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगे।मामले की गूंज लखनऊ तक पहुंची। जैसे-तैसे अफसरों ने सपाइयों को शांत कराया लेकिन, प्रदेश नेतृत्व के निर्देश पर सपाइयों ने वेयरहाउस पर डेरा डाल दिया।

Edited By: Samanvay Pandey