बरेली, जेएनएन। Bareilly Conversion Case: खुद को विशाल बताकर दूसरे संप्रदाय की युवती का अपहरण करने वाले आरोपित अकलीम कुरैशी का दुस्साहस बढ़ता जा रहा है। करीबियों के जरिए उसने युवती के स्वजन को जिंदा जलाने का संदेशा भेजा है। यहां तक धमकी दी कि युवती व उसका पीछा करना छोड़ दें। ज्यादा मुस्तैदी दिखाई तो कोई बचाने वाला नहीं मिलेगा। धमकी से डरे सहमे स्वजन बुधवार को एसएसपी के पास पहुंचे। एसएसपी ने आरोपितों को जल्द पकड़कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

शाही कस्बे की रहने वाले बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा का आरोपित अकलीम कुरैशी तीन अगस्त को अपहरण कर ले गया था। उसने युवती को अपना नाम विशाल बताकर उससे परिचय बढ़ाया था। बाद में अश्लील वीडियो तैयार कर उसे धमकाया। वायरल करने की धमकी देकर उसका अपहरण कर ले गया। आरोप है कि उसके इस काम में सभासाद खलीबुल हसन खां ने मदद की। दोनों के खिलाफ शाही पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज की। आरोपित ने सीबीगंज पोस्ट आफिस से एक पत्र भी पोस्ट किया। जिसमें उसने युवती के मतांतरण की बात कही। आरोपित की अंतिम लोकेशन सीबीगंज ही मिली। उसके बाद से आरोपितों का कोई सुराग हाथ नहीं लग गया है।शाही थाना प्रभारी सौरभ सिंह ने बताया कि थाना पुलिस युवती की तलाश में जुटी हुई है। आरोपित को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा।

धोखाधड़ी में जमानत नामंजूर : सोने का ब्रेड बेचने का लालच देकर आरोपितों ने वादी को ठग लिया। स्पेशल जज सत्यदेव गुप्ता ने आरोपित इकबाल की जमानत अर्जी नामंजूर कर दी। वारदात बीते जून माह की है। शास्त्रीनगर निवासी सुभाष ने थाना प्रेमनगर में रिपोर्ट लिखाई थी। रिपोर्ट के मुताबिक आरोपित रविंद्र, अनिल शर्मा, इकबाल व बृजेश सिंह ने एक राय होकर सोने का ब्रेड बेचने के बहाने बुलाया और करीब 40 लाख रुपए ले लिए। बाद में ब्रेड किसी अन्य स्थान पर देने की बात कह दी। पुलिस ने आरोपित इकबाल से 12 ग्राम, बृजेश से पांच ग्राम, अनिल शर्मा से 51 ग्राम व रविंद्र से 15 ग्राम सोना बरामद किया। आरोपित इकबाल की जमानत अर्जी कोर्ट ने बुधवार को खारिज कर दी।

Edited By: Samanvay Pandey