बरेली, जेएनएन। Bareilly Labour Department News : होटल, ढाबों और मोटर गैराज पर बच्चों से काम कराते हुए पकड़ा गया। आठ बच्चों को छुड़वाकर मेडिकल के बाद चाइल्ड लाइन के शेल्टर होम में रखा गया है। बाल श्रम कराने वालाें के खिलाफ श्रम विभाग कार्रवाई करवा रहा है।

श्रम विभाग की उप श्रमायुक्त अनुपमा गौतम के मुताबिक सदर कैंट, सिविल लाइंस, शाहजहांपुर रोड, सैटेलाइट बस अड्डा, बीसलपुर चौराहा, हरुनगला, पीलीभीत रोड, संजयनगर, लक्ष्मीनगर, माडल टाउन, श्यामगंज में बाल श्रम के खिलाफ अभियान चलाया गया। एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट, यूनीसेफ की संयुक्त टीम ने अभियान संचालित किया। होटल, ढाबो, मोटर गैराज, मैकेनिक शॉप पर हुई छापामारी के आठ बच्चों को बाल श्रम करते हुए पाया गया। उन्हें अपने कब्जे में लेकर बाल कल्याण समिति के सामने पेश करके मेडिकल कराया गया।

चाइल्ड लाइन के शेल्टर होम में बच्चों को सुरक्षित किया गया है। बाल श्रम कराने वालों के खिलाफ बाल एवं किशोर श्रम अधिनियम 1986 के तहत कार्रवाई की जा रही है। उल्लंघन करने वालों के खिलाफ 50 हजार का जुर्माना व एक साल की सजा हो सकती है। इस अभियान में श्रम प्रवर्तन अधिकारी राम अवतार शर्मा, भुलाई राम, राम लखन स्वर्णकार मौजूद रहे। उनके साथ जीशान अंसारी तकनीकी रिसोर्स पर्सन नया सवेरा, एएचटीयू से इंस्पेक्टर सुरेंद्र सिंह यादव आदी मौजूद रहे।

Edited By: Ravi Mishra