बरेली, जेएनएन। प्रयागराज के दलित युवक से चार जुलाई को मंदिर में विवाह करने वाली बरेली के बिथरी चैनपुर से भाजपा विधायक की बेटी ने अपनी जान का खतरा बताया है। विधायक की बेटी साक्षी और उसके पति अजितेश ने वीडियो वायरल कर अपनी सुरक्षा की गुहार लगाई है। उधर, विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल ने कहा कि बेटी बालिग है उसको फैसला लेने का अधिकार है। मैंने या मेरे किसी समर्थक ने कोई धमकी नहीं दी। बेटी चाहें जहां रहे, खुश रहे। 

विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी ने अनुसूचित जाति के युवक अजितेश कुमार के साथ वैदिक हिंदू रीति रिवाज से शादी करना अब उसके जान पर बन आई है। उसने अपने पिता, भाई और उनके मित्र से अपनी और पति के जान को खतरा बताते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है। इसके साथ ही दो वीडियो वायरल कर बरेली के एसपी से भी सुरक्षा मांगी है। कल शाम जारी वीडियो में साक्षी ने साफ कहा कि पापा मुझे शांति से जीने दो। साक्षी ने वायरल वीडियो के माध्यम से अपने पिता से कहा है कि उसे चैन से रहने दिया जाए और वह चैन से राजनीति करें। साक्षी ने यह भी धमकी दी है कि यदि उसकी और पति की हत्या की गई तो वह उन्हें भी फंसा देगी।

जारी दो वीडियो में साक्षी और अजितेश ने अपनी सुरक्षा की गुहार लगाई है। एक वीडियो में दोनों यह कहते हुए नजर आ रहे हैं कि भाजपा विधायक के लोग उनके जान के पीछे पड़े हैं। विधायक के एक मित्र राजीव राणा अपने आदमियों के साथ उनके होटल भी पहुंच गया था। वह लोग हम दोनों को कहीं भी जान से मारने के फिराक में हैं।

दूसरे वीडियो में साक्षी अकेली हैं और अपने पिता पप्पू भरतौल, भाई विक्की भरतौल और उनके मित्र राजीव राणा को चेतावनी देते हुए नजर आ रही हैं। उस वीडियो में साक्षी कह रही हैं कि उन्होंने शादी कर ली है और वे खुश हैं। साथ ही वे पिता और भाई को यह नसीहत दे रही हैं कि उनसे और उनके पति से दूर रहें। वह अजितेश के साथ खुश हैं। अगर उनके पति व उनके परिवार को कुछ हुआ तो सभी को जेल भिजवाकर रहेंगी।

विधायक राजेश की बेटी ने बीते चार जुलाई को प्रयागराज में एक मंदिर में अजितेश कुमार के साथ हिंदू रीति रिवाज से शादी की थी। शादी के बाद से ही विधायक की बेटी और अजितेश घर से गायब हैं। अजितेश बरेली के ही फरीदपुर से भाजपा विधायक डॉ. श्याम बिहारी लाल का रिश्तेदार बताया जा रहा है। विधायक राजेश मिश्रा की बेटी ने वीडियो वायरल कर कहा कि दोनों ने घर से भागकर अपनी मर्जी से शादी की, लेकिन विधायक के दोस्त (राजीव) पीछे पड़े हुए हैं। अजितेश ने यह भी जिक्र किया कि वह जिस होटल में ठहरे हुए थे, वहां भी मारने के लिए लोग पहुंच गए थे। विधायक की बेटी ने बरेली के एसपी से मदद मांगी है। इन दोनों का कहना है कि यदि विधायक के हाथ लग गए तो दोनों को मार दिया जाएगा।

विधायक राजेश मिश्रा की पुत्री दो जुलाई से उनके आवास, आशियाना कॉलोनी से गायब है। इस दौरान चार जुलाई को प्रयागराज में साक्षी ने अजितेश से मंदिर में विवाह किया। नौ जुलाई को एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें उसने अजितेश नामक युवक से प्रेम विवाह करने और उनकी जान को पिता से खतरा होने की बात कही थी।

डीआइजी का साक्षी व अजितेश को सुरक्षा देने का निर्देश

बरेली के डीआईजी राजेश कुमार पाण्डेय ने बताया कि साक्षी मिश्रा की दलित युवक अजितेश कुमार से विवाह की सूचना वायरल वीडियो से मिली है। पाण्डेय ने बताया कि यह मामला संज्ञान में आने पर उन्होंने बरेली के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिया है कि साक्षी और अजितेश को सुरक्षा दी जाए। राजेश कुमार पाण्डेय ने बताया कि दंपति ने अभी तक यह सूचित नहीं किया है कि उनका पता ठिकाना कहां है। उनकी सुरक्षा के लिए पुलिस कहां भेजें। 

सुरक्षा मुहैया, ससुराल में पुलिस पिकेट 

दलित युवक अजितेश से शादी करने वाली बरेली बिथरी चैनपुर सीट से विधायक राजेश मिश्रा उर्फ़ पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी को एसएसपी मुनिराज ने सुरक्षा मुहैया कराने के निर्देश दिए हैं। साथी ही साक्षी के ससुराल में पुलिस पिकेट भी लगाई गई है।

साक्षी ने बुधवार शाम वीडियो वायरल कर बरेली के पुलिस कप्तान से सुरक्षा की गुहार लगाई थी। वीडियो में साक्षी और उसे पति अजितेश ने विधायक राजेश मिश्र, बेटे विक्की भरतौल और मित्र राजीव राणा से जान को खतरा बताया था।

विधायक राजेश मिश्रा ने तोड़ चुप्पी

बेटी साक्षी के दलित लड़के अजितेश से से शादी करने पर विधायक राजेश मिश्रा ने चुप्पी तोड़ी है। विधायक ने कहा कि जो मीडिया में चल रहा है सब गलत है। बेटी बालिग है। उसको निर्णय लेने का अधिकार है।

मैने तो किसी को धमकी नहीं दी है। इसके साथ ही भाजपा विधायक ने कहा कि हम अपने काम में व्यस्त हैं। अपनी विधानसभा में जनता का काम कर रहा हूं। भाजपा का सदस्यता अभियान चला रह हूँ, मेरी तरफ से किसी को भी कोई खतरा नहीं है।

हाईकोर्ट की शरण में साक्षी व अजितेश

बरेली के भाजपा विधायक राजेश मिश्र की बेटी साक्षी ने इलाहाबाद हाई कोर्ट में याचिका दाखिल कर अपने पिता से सुरक्षा की गुहार लगाई है। याचियों के कोर्ट में न आ पाने के कारण मामले में अगली सुनवाई 15 जुलाई को होगी। याची के अधिवक्ता विकास राणा का कहना है कि साक्षी और अजितेश कुमार बालिग हैं और अपनी मर्जी से मंदिर में विवाह किया है, लेकिन साक्षी के पिता व परिवार के दूसरे सदस्य डरा-धमका रहे हैं। याचिका में बरेली पुलिस पर भी विधायक पिता के दबाव में काम करने का आरोप लगाया गया है। याची ने डीएम व एसएसपी से शिकायत की, लेकिन उन्हें सुरक्षा नहीं दी गई। 

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप