सतरिख (बाराबंकी) : कस्बा सतरिख स्थित ह•ारत सैयद सालार साहू गाजी (बूढे बाबा) के मेले में श्रद्धालु उमड़ रहे हैं। बूढ़े बाबा की दरगाह शरीफ पर उनकी याद में लगने वाले वार्षिक मेले में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ ने दर्शन और मांगी मुरादें मांगीं। यह सिलसिला दिन भर चलता रहा। प्रदेश के कोने-कोने से आये •ायरीन ने चादरपोशी की और अपनी अटूट आस्था व्यक्त करते हुए मन्नतें पूरी होने पर दूरदराज से पैदल चलकर निशान पेश किए।

मुख्य अतिथि राज्य सूचना आयुक्त हाफि•ा मोहम्मद उस्मान एवं पूर्व कारागार मंत्री राकेश कुमार वर्मा ने संयुक्त रूप से दरगाह परिसर में आयोजित मानव संदेश गोष्ठी का फीता काट कर उदघाटन किया। राज्य सूचना आयुक्त ने कहा कि इन बुजुर्गों से समाज में इंसानियत का पैगाम आम होता है इनके बताये हुऐ रास्ते पर चल कर ही देश व समाज को बेहतर बनाया जा सकता है। पूर्व कारागार मंत्री ने कहा कि सूफी संतों के बताए रास्ते समाज में एकता व भाईचारे का संदेश देते है जिन पर चलकर समाज को एक बेहतर दिशा मिलती है और आपसी प्रेम बढ़ता है। मुख्य अतिथियों द्वारा चादर पोशी की गई और मुल्क में अमन-चैन की दुआएं मांगी गईं।

रात में आस्ताने पर कुल शरी़फ का आयोजन किया गया जिसमें मुफ्ती मौलाना इश्तियाक अहमद ने तिलावते कुरान पाक से आगा•ा किया। इससे पूर्व प्रबंध कमेटी के सचिव चौधरी कलीम उद्दीन उस्मानी, जिला पंचायत सदस्य इं. कृष्ण कुमार रावत, प्रभारी मेला जाबिर अली अंसारी सहित काफी संख्या में लोगो ने स्वागत किया।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप