तेज रफ्तार वाहन की टक्कर से बाइक सवार युवक की मौत, दूसरा घायल

संवाद सहयोगी, अतर्रा : झांसी-मीरजापुर हाईवे पर तेज रफ्तार वाहन की टक्कर से बाइक सवार युवक की मौत हो गई, जबकि उसका साथी गंभीर रूप से घायल हो गया। हेलमेट की अनदेखी भारी पड़ी। युवक मामा के कहने पर उनके पड़ोसी को घर छोड़ने गिरवां के लिए निकला था। स्वजन यह नहीं बता सके कि दोनों अतर्रा की तरफ क्या करने गए थे।

शहर कोतवाली क्षेत्र के बंधापुरवा निवासी 22 वर्षीय अंगद यादव गिरवां के मणिपुर निवासी 25 वर्षीय धर्मेंद्र के साथ अतर्रा से वापस लौट रहा था। गडरा नाला के पास किसी तेज रफ्तार वाहन ने बाइक में टक्कर मार दी, जिससे दोनों सड़क पर गिर लहूलुहान हो गए। राहगीरों की मदद से पुलिस ने दोनों को सीएचसी पहुंचाया, जहां चिकित्सक ने अंगद को मृत घोषित कर दिया, जबकि धर्मेंद्र की हालत गंभीर देख जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

मामा अपने पड़ोसी के साथ आए थे घर

अंगद के मामा सियाराम रविवार को अपने पड़ोसी 25 वर्षीय धर्मेंद्र के साथ उसके घर आए थे। बहनोई राजू यादव ने बताया कि देर शाम सियाराम ने अपने पड़ोसी धर्मेंद्र को घर छोड़ने के लिए अंगद से कहा था। जिसके बाद दोनों बाइक से चले गए थे। यह समझ में नहीं आ रहा है कि वह लोग अतर्रा की तरफ क्या करने गए थे। जबकि गिरवां नरैनी रोड पर है।

एक साल पहले हुई शादी, सूरत में करता था मजदूरी

अंगद सूरत में मजदूरी करता था। उसकी एक साल पहले ही शादी हुई थी। वह मई माह में घर लौटा था और दो भाइयों में सबसे बड़ा था। जवान बेटे की मौत के बाद मां शंकुतला और एक साल बाद ही मांग का सिंदूर उजड़ने से पत्नी रानी बेसुध हो गईं। प्रभारी निरीक्षक अनूप दुबे ने बताया कि अभी तक किसी प्रकार की तहरीर नहीं मिली है, अज्ञात वाहन की पहचान का प्रयास किया जा रहा है।

Edited By: Jagran