जागरण संवाददाता, बिल्थरारोड (बलिया) : बिल्थरारोड बिठुआ पोखरा के उत्तरी छोर पर छठ पूजा स्थल को एक वर्ग समुदाय ने शुक्रवार को अचानक कब्रिस्तान की जमीन बताया और कब्र के समीप छठ पूजा कार्यक्रम का विरोध किया। इससे दो समुदायों में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गई।

बवाल टालने के लिए प्रबुद्धजनों की मौजूदगी में प्रशासनिक हस्तक्षेप के बाद यहां छठ पूजा के लिए लगे टेंट का पर्दा हटा दिया गया। तनाव के बीच बड़ी संख्या में यहां महिलाओं ने छठ पूजा की। जैसे- तैसे छठ पूजा निपट गया।गांव की महिला प्रधान कौशिल्या देवी संग उक्त मामले को लेकर बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने तहसीलदार जितेंद्र सिंह से मुलाकात की और पूरे मामले की जांच की मांग की। कहा कि उक्त बिठुआ पोखरे के उत्तरी छोर पर बह और भीटा की भूमि को गलत तरीके से अवैध कब्जा करने का प्रयास किया जा रहा है।

इधर गांव निवासी तौसीफ ने उक्त भूमि को कब्रिस्तान बताते हुए हिदू समाज के धार्मिक कार्यो पर रोक लगाने की मांग की है। तहसीलदार ने मामले की जांच और भूअभिलेखों के सत्यापन हेतु चार लेखपाल, एक कानूनगो की जांच टीम गठित कर दी है। तहसीलदार जितेंद्र सिंह ने बताया कि जांच टीम द्वारा एक पखवारे के अंदर नापी कर स्थलीय निरीक्षण किया जायेगा। अज्ञात वाहन के धक्के से बाइक सवार घायल

जागरण संवाददाता, इंदरपुर (बलिया): नगरा-गड़वार मार्ग के चोगड़ा बाजार में शुक्रवार की शाम को अज्ञात वाहन के धक्के से बाइक सवार सवार ताखा छावनी निवासी शिवकुमार यादव (35) गंभीर रूप से घायल हो गए। इनका इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। घटना के बाद चालक गाड़ी लेकर भागने में सफल हो गए।

Edited By: Jagran