जेएनएन, बिल्सी (बदायूं): नगर में देवस्थान के पास कब्र खोदकर दूसरे समुदाय के लोगों ने माहौल बिगाड़ने की कोशिश की। कब्र की खोदाई देख तमाम लोगों ने विरोध किया। वहां कई लोगों की निजी भूमि भी है। इससे दोनों समुदाय के लोग आमने-सामने आए। सूचना पर तहसील प्रशासन की टीम और पुलिस मौके पर पहुंची। तहसील टीम ने रिकार्ड देखकर कहा कि वहां देवस्थान और कुछ लोगों की निजी भूमि है। इससे कब्र नहीं खोदी जा सकती। पुलिस प्रशासन ने सख्ती दिखाई। फिर जेसीबी से उसको पाट दिया गया है।

सोमवार को बिसौली कोतवाली क्षेत्र में ईंटों से भरी ट्राली पलटने से बिल्सी के मुहल्ला नंबर आठ के समीर पुत्र सकुरी की मौत हुई थी। मंगलवार को उसके स्वजनों ने शव दफनाने को देवस्थान के पास में ही कब्र की खोदाई शुरू कराई। सूचना पर चेयरमैन अनुज वाष्र्णेय, तहसीलदार अशोक सैनी, एसएचओ धर्मेंद्र कुमार गुप्ता फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस प्रशासन के सामने भी दूसरे समुदाय के लोग शव दफनाने की बात पर अड़े रहे। फिर तहसीलदार ने जमीन का रिकार्ड दिखवाया तो पता चला कि वह भूमि पर देवस्थान और कुछ लोगों के नाम दर्ज हैं। भूमि के निजी स्वामियों ने भी कब्र खोदने का विरोध किया। लेकिन, दूसरे समुदाय के लोग शव दफनाने पर अड़े रहे तब जाकर पुलिस ने सख्ती दिखाई। इस पर वह शांत हो गए।

वर्जन ..

वह जमीन पर पीपल का पेड़ दर्ज है तो कुछ लोगों के नाम भी अंकित हैं। वहां पर कोई कब्रिस्तान नहीं है। इस बात का रिकार्ड दिखाकर कब्र को पटवा दिया।

- अशोक सैनी, तहसीलदार वर्जन ..

लोगों की निजी भूमि के साथ देवस्थान के पास कब्र खोदकर कुछ लोगों ने माहौल बिगाड़ने की कोशिश की। फिलहाल कब्र को पटवा दिया गया है। सुरक्षा-व्यवस्था की ²ष्टि से मौके पर पुलिस तैनात कर दी गई है। तनाव जैसी कोई स्थिति नहीं है।

- धर्मेंद्र कुमार गुप्ता, एसएचओ बिल्सी

Edited By: Jagran