Move to Jagran APP

Badaun: पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार को लाए गए बच्चों के शव, पुलिस ने साजिद के पिता-चाचा को हिरासत में लिया

Badaun Double Murder News बदायूं में मंगलवार शाम सदर कोतवाली क्षेत्र के बाबा कालोनी में मुस्लिम नाई ने हिंदू परिवार घर में घुसकर दो बच्चों की छुरे और उस्तरा से हमला कर हत्या कर दी। पुलिस ने हत्यारोपित का एनकाउंटर कर दिया है। बुधवार को दोनों बच्चों का शव पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार के लिए लाया गया। इस दौरान बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात है।

By Jagran News Edited By: Abhishek Pandey Wed, 20 Mar 2024 12:35 PM (IST)
पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार को लाया गए बच्चों के शव

जागरण संवादादाता, बदायूं। (Badaun Double Murder Case) शहर की बाबा कालोनी में दो बच्चों की हत्या के मामले में देर रात पिता ने प्राथमिकी लिखाई। जिसमें साजिद के साथ उसके भाई को भी आरोपित बनाया है। उनका आरोप है कि दोनों भाई घर में घुसे और बेटों की हत्या कर फरार हो गए।

हत्या क्यों की गई इसकी वजह स्पष्ट नहीं कर सके। इधर सुबह ही दोनों बच्चों के शव पोस्टमार्टम के बाद कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच घर ले जाए गए। जहां से शव को कछला ले जाया गया। बच्चों के घर के बाहर लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। जिसे देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

शहर में भी जगह जगह पुलिस तैनात है। इसके अलावा अब तक आरोपित पक्ष से कोई सामने नहीं आया है। जिसके चलते उसका शव मोर्चरी में ही रखा है।

वहीं हत्यारोपित साजिद के पिता व चाचा को पुलिस ने पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

इलाके में स्थिति सामान्य

डबल मर्डर केस में SSP बदायूं आलोक प्रियदर्शी ने कहा, "कानून-व्यवस्था बिल्कुल सामान्य है। शहर में कोई दिक्कत नहीं है। जनपद में हर जगह स्थिति सामान्य है। हम सोशल मीडिया पर नजर बनाए हुए हैं। आरोपी साजिद अपना नाई का खोखा पीड़ित परिवार के घर के समाने रखता था। उसके घर में आना-जाना भी था।

कल शाम 7:30 बजे वे घर के अंदर गया और छत पर दोनों बच्चे खेल रहे थे उन पर हमला किया और दोनों बच्चों की हत्या कर दी। वे जब जाने लगा तो भीड़ ने पकड़ने की कोशिश की लेकिन वे भीड़ से निकल कर भाग गया। पुलिस को सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंच कर स्थिति को संभाला। पुलिस ने घेराबंदी कर उसे पकड़ने की कोशिश की तो उसने पुलिस पर फायर किया। जवाबी फायरिंग में उसकी मृत्यु हो गई।"

इसे भी पढ़ें: 'सैलून वाले भैया आए और हम तीनों को चाकू से...', बदायूं में साजिद के हमले में जिंदा बचे बच्चे ने बताई आपबीती