Move to Jagran APP

आतंकी संगठन ने दी राम मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी, खुफिया तंत्र अलर्ट; बढ़ाई गई सुरक्षा

जैश-ए-मोहम्मद ने राम मंदिर को उड़ाने की धमकी दी है। वायरल ऑडियो में आमिर नाम के जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ने मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी दी है। उसे कहते सुना जा रहा है कि हमारी मस्जिद को हटाकर मंदिर बनाया गया है। अब इसे बम से उड़ा दिया जाएगा। आतंकी कह रहा है कि हमारे तीन साथी कुर्बान हुए हैं और अब इस मंदिर को गिराना ही होगा।

By Jagran News Edited By: Vinay Saxena Fri, 14 Jun 2024 03:55 PM (IST)
जैश ने दी राम मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी।

संवाद सूत्र, अयोध्या। आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने रामजन्मभूमि को लेकर एक बार फिर जहर उगला है। जैश ने राम मंदिर को उड़ाने की धमकी दी है। इसे लेकर धमकी भरा ऑडियो भी वायरल किया गया है। हालांकि, दैनिक जागरण इस ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है।

वायरल ऑडियो में आमिर नाम के जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ने मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी दी है। उसे कहते सुना जा रहा है कि हमारी मस्जिद को हटाकर मंदिर बनाया गया है। अब इसे बम से उड़ा दिया जाएगा। आतंकी कह रहा है कि हमारे तीन साथी कुर्बान हुए हैं और अब इस मंदिर को गिराना ही होगा।

खुफिया तंत्र अलर्ट, बढ़ाई गई सुरक्षा

यह ऑडियो संज्ञान में आने के बाद सुरक्षा एवं खुफिया तंत्र के कान खड़े हो गए हैं। राममंदिर सहित उससे सटे संपर्क मार्ग एवं प्रमुख प्रतिष्ठानों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। वर्ष 2005 में रामजन्मभूमि परिसर पर हुए आतंकी हमले में इसी संगठन का नाम सामने आया था। जैश रामजन्मभूमि को लेकर लगातार जहर उगलता रहा है। प्राण प्रतिष्ठा से पूर्व भी इस आतंकी संगठन ने धमकी दी थी।

राममंदिर निर्माण के बाद उसकी सुरक्षा को लेकर केंद्र सरकार लगातार नए प्रबंध कर रही है। रामनगरी में प्रस्तावित एनएसजी सेंटर सुरक्षा विस्तार की नई कड़ी है।

अलर्ट मोड पर राम नगरी

आतंकी धमकी के बाद राम नगरी अलर्ट मोड पर है। महर्षि वाल्मीकि एयरपोर्ट की भी सुरक्षा परखने के लिए एसएसपी राज करण नय्यर ने दौरा किया। सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने के साथ सतर्क रहने की हिदायत दी। हालांकि आतंकी संगठन के धमकी के बारे में उन्होंने अनभिज्ञता व्यक्त की।

एटीएस कमांडो कर रहे न‍िगरानी 

उन्होंने बताया कि किसी ऑडियो के बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है। राममंदिर सहित संपूर्ण रामनगरी की सुरक्षा सुदृढ़ है। अयोध्या धाम को विभिन्न जोन में विभाजित कर निगरानी की जा रही है। जिला पुलिस के अलावा पीएसी के भी कई कंपनियां हुई हैं। एटीएस कमांडो भी पहले से निगरानी कर रहे हैं। पूरे क्षेत्र को सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।