Move to Jagran APP

आतंकी हमले की घटनाओं के बाद… अब एनएसजी की पहरेदारी में रहेगी अयोध्या, सेंटर बनाने के लिए तलाशी जा रही जमीन

अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के निर्माण के बाद वहां सुरक्षा प्रबंधों को लगातार और पुख्ता किया जा रहा है। अयोध्या पर विभिन्न आतंकी संगठनों की नजर है। ऐसे में किसी विषम परिस्थिति से निपटने के लिए जल्द राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) के कमांडो भी मुस्तैद किए जाएंगे। केंद्र सरकार अयोध्या में एनएसजी की एक यूनिट स्थापित कराने की तैयारी में है।

By Jagran News Edited By: Shivam Yadav Wed, 12 Jun 2024 10:20 PM (IST)
आतंकी हमले की घटनाओं के बाद… अब एनएसजी की पहरेदारी में रहेगी अयोध्या, सेंटर बनाने के लिए तलाशी जा रही जमीन
आतंकी हमले की घटनाओं के बाद… अब एनएसजी की पहरेदारी में रहेगी अयोध्या।

राज्य ब्यूरो, लखनऊ। अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के निर्माण के बाद वहां सुरक्षा प्रबंधों को लगातार और पुख्ता किया जा रहा है। अयोध्या पर विभिन्न आतंकी संगठनों की नजर है। ऐसे में किसी विषम परिस्थिति से निपटने के लिए जल्द राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) के कमांडो भी मुस्तैद किए जाएंगे। केंद्र सरकार अयोध्या में एनएसजी की एक यूनिट स्थापित कराने की तैयारी में है।

अधिकारियों ने किया था भ्रमण

अयोध्या में एनएसजी सेंटर के लिए भूमि तलाशी जा रही है। सूत्रों का कहना है कि कैंट क्षेत्र में भूमि के लिए सेना से भी संपर्क किया गया है। इसके साथ ही जिला प्रशासन से भी जमीन उपलब्ध कराने के लिए वार्ता चल रही है। 

एनएसजी के वरिष्ठ अधिकारियों ने बीते दिनों अयोध्या का भ्रमण भी किया था। एनएसजी सेंटर में जवानों को विशेष प्रशिक्षण दिए जाने की भी सुविधा होगी। 

अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्माण के बाद श्रद्धालुओं की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। अति विशिष्ट अतिथियों की आवाजाही भी बढ़ी है। अयोध्या में किसी आतंकी घटना की साजिश को देखते हुए जांच व सुरक्षा एजेंसियां लगातार सतर्कता बरतती हैं। 

उत्तर प्रदेश के प्रमुख धार्मिक स्थलों के साथ ही विधानभवन, राजभवन व अन्य प्रमुख प्रतिष्ठानों के सुरक्षा प्रबंधों को और दुरुस्त करने के लिए उप्र पुलिस एनएसजी व अन्य सुरक्षा एजेंसियों के साथ समन्वय बनाकर काम करती रही है।

यह भी पढ़ें: UPPCL News: उत्तर प्रदेश में भीषण गर्मी का असर, 29820 मेगावाट तक पहुंची बिजली की मांग, बना नया रिकॉर्ड