अमेठी, जेएनएन। लोकसभा चुनाव 2019 में पांचवें चरण के मतदान की तारीख से ठीक एक दिन पहले अमेठी में कथित रूप से आयुष्मान कार्ड धारक एक मरीज की राजीव गांधी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा संचालित अस्पताल में मौत को लेकर सियासत गर्म हो गई है। परिवारीजन के बयानों पर आधारित एक वीडियो को ट़्वीट करते हुए अमेठी से भाजपा उम्मीदवार व केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अस्पताल और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोला है। पूरे मामले पर आयुष्मान भारत के कार्यकारी अधिकारी ने अमेठी जिलाधिकारी से रिपोर्ट तलब की है, जबकि अस्पताल प्रशासन मृतक मरीज व उनके परिवारीजन के पास भर्ती होने के समय आयुष्मान कार्ड न होने बात कह रहा है।

केंद्रीय मंत्री व भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी ने रविवार दोपहर एक वीडियो ट्वीट कर अमेठी के संजय गांधी अस्पताल पर आयुष्मान योजना के एक लाभार्थी का इलाज नहीं करने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोला है। उन्होंने वीडियो के साथ किये गए ट्वीट में लिखा है कि 'आज मैं निशब्द हूं, कोई इतना गिर सकता है यह कभी नहीं सोचा था। एक गरीब को सिर्फ इसलिए मरने दिया क्यूंकि उसके पास मोदी का आयुष्मान कार्ड था पर अस्पताल राहुल गांधी का था।' उन्होंने सवाल किया कि 'संजय गांधी अस्पताल के ट्रस्टी राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा जवाब दें अमेठी को कि एक निर्दोष को क्यूं मार दिया गया?'

ट्वीट किये गए वीडियो में मृतक के भतीजे का बयान है, जिसमें वह कह रहा है कि जब उसने अपने चाचा को अस्पताल में भर्ती कराया और कार्ड दिखाया तो अस्पताल के लोगों ने कहा कि यह राहुल गांधी का अस्पताल है यहां मोदी और योगी का कार्ड नहीं चलता है। वह कह रहा है कि हमने कार्ड पर दिए हेल्पलाइन नंबर से भी शिकायत की लेकिन, मदद नहीं मिली और इलाज न हो पाने के चलते उसके चाचा की मौत हो गई। संलग्न वीडियो मुसाफिरखाना क्षेत्र के किसी गांव का बताया जा रहा है। हालांकि वीडियो में आयुष्मान कार्ड नहीं दिखाया गया है।

इस पूरे मामले को लेकर जब अस्पताल के प्रबंधक भोलानाथ तिवारी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि 25 अप्रैल को मुसाफिरखाना क्षेत्र के सरई गांव निवासी नन्हें लाल मिश्र को देर रात अस्पताल में लाया गया था। भर्ती करते समय उनके पास आयुष्मान कार्ड नहीं था। तीमारदारों ने आयुष्मान कार्ड का जिक्र नहीं किया। 26 अप्रैल को इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी। उन्हें मृत्यु प्रमाण पत्र भी अस्पताल द्वारा जारी किया गया है। अस्पताल आयुष्मान योजना के तहत रजिस्टर्ड है। पीड़ित परिवार द्वारा अस्पताल व प्रबंधन व प्रशासन से कोई शिकायत नहीं की गई है। इस संबंध में सीएमओ डॉ. आरएम श्रीवास्तव ने कहा कि मामला संज्ञान में आया है। चुनाव बाद टीम भेजकर जांच कराई जाएगी।

स्मृति ईरानी के ट्वीट किये गए वीडियो में एक व्यक्ति द्वारा लगाए गए आरोपों पर संजय गांधी अस्पताल के निदेशक एसएम चौधरी ने आयुष्मान भारत कार्ड धारक का अस्पताल में इलाज से इन्कार करने का आरोप निराधार बताया है। उन्होंने कहा कि हमने इस योजना के तहत अब तक 200 रोगियों का इलाज किया है। 

उन्होंने कहा कि वह मरीज अपने साथ आयुष्मान भारत कार्ड नहीं लाया था। इस योजना के तहत मरीज को कार्ड के बिना भर्ती नहीं किया जा सकता है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021