मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

अमेठी, जेएनएन। कैबिनेट मंत्री एवं अमेठी सांसद स्मृति ईरानी के बेहद करीबी रहे पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह के हत्याकांड में गलत ट्वीट करने वाले एक युवक पर मुकदमा दर्ज किया गया है। पोस्ट करते हुए युवक ने लिखा- ''डीजीपी महोदय ने लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह की हत्या बीजेपी के नेताओं ने कराई है।'' इसपर डीजीपी यूपी ओपर सिंह ने मामले को संज्ञान में लेते हुए संबंधित के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत करने के लिए अमेठी पुलिस को आदेशित किया। इसपर जिले के पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर हरकत में आए अमेठी जनपद के गौरीगंज थाने में इंस्पेक्टर की तरफ से मुकदमा पंजीकृत किया गया।

ये है पूरा मामला 

अमेठी जनपद के पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गौरव पांधी नामक युवक ने अपने ट्वीट अकाउंट पर पोस्ट करते हुए लिखा कि जो अमेठी में सुरेंद्र सिंह की हत्या हुई थी। उसके संदर्भ में डीजीपी महोदय ने यह स्टेटमेंट अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिया है कि बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने ही यह हत्या की है। पुलिस अधीक्षक का कहना है कि इस गलत तरह से सोशल मीडिया पर चलाए गए ट्वीट से समाज में वैमनस्यता दुश्मनी और भ्रम फैल सकता है। युवक पर 505/2 आईपीसी की धारा में मुकदमा दर्ज किया गया है। 

25 मई को देर रात हुई थी हत्या 

बता दें, अमेठी में शनिवार (25 मई) देर रात स्मृति ईरानी के करीबी भाजपा नेता पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह की गोली मारकर हत्या कर गई थी। रविवार (26 मई) की शाम दिवंगत पूर्व प्रधान के बड़े भाई नरेंद्र सिंह की तहरीर पर जामो पुलिस ने केस दर्ज किया था। जिसके तहत पुलिस ने वसीम, नसीम, गोलू सिंह, रामचंद्र बीडीसी, रामनाथ गुप्ता के खिलाफ नामजद आरोपियों पर केस दर्ज किया। इनमें से अब तक सभी को गिरफ्तार कर लिया गया है। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Divyansh Rastogi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप