अमेठी : जायस कोतवाली क्षेत्र में दो दिन पहले दबंगों ने एक दलित महिला का घर गिरा दिया। विरोध करने पर घर की महिलाओं और अन्य सदस्यों से मारपीट भी की। पुलिस में शिकायत की गई लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। इस पर पीड़िता गांव की महिलाओं के साथ शुक्रवार को कलेक्ट्रेट पहुंची और एडीएम को ज्ञापन सौंपकर सुरक्षा की गुहार लगाई।

विकास क्षेत्र तिलोई के नया पुरवा मजरे कासिमपुर निवासी काजल ने एडीएम को बताया कि उसका मकान गांव की आबादी में बना हुआ है। इसे कासिमपुर मुर्गिहापुर निवासी विशेष समुदाय के पांच लोगों ने दो दिन पूर्व बुधवार को दिनदहाड़े गिरा दिया था। घर गिराने से मना करने पर दबंगों ने घर की महिलाओं और अन्य सदस्यों की पिटाई कर दी। पीड़िता काजल के साथ कलेक्ट्रेट पहुचीं गांव की महिलाओं मंजू, गीता, बंशीलाल, राजकुमारी, हुबराजा, इंद्रावती, फूलमती, कृष्णा, दुर्पता आदि ने कहा कि दबंगों ने जाति सूचक गाली देते हुए घर के सदस्यों को जान से मारने की धमकी भी दी है। इससे गांव के दलितों में दहशत का माहौल है। मामले की शिकायत गुरुवार को जायस थाने में की गई थी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। इस पर एडीएम ने तिलोई एसडीएम व संबंधित थाना प्रभारी को मौके पर जाकर मामले की जांच करने के निर्देश दिए हैं।

Posted By: Jagran