प्रयागराज, जागरण संवाददाता। सभी दलों ने सियासी समर के लिए कमर कस ली है। एक दूसरे पर कटाक्ष का सिलसिला भी तेज हो गया है। अपने दल और नीतियों को हर कोई जनता के हित में बता रहा है जबकि दूसरे दलों पर भी निशाना साधने से कोई नहीं चूक रहा है। यूपी के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट किया है कि कांग्रेस राष्ट्रीय बीमारी है। जनता डाक्टर बनकर इलाज कर रही है। जैसे-जैसे बीमारी दूर हो रही है, वैसे ही राष्ट्रीय समस्या दूर हो रही है।

बोले केशव, भाजपा के साथ नेता और मतदाता दोनाें हैं

डिप्‍टी सीएम केशव मौर्य ने अपनी बात उदाहरण देकर विस्‍तृत किया। कहा कि उदाहरण के तौर पर श्रीराम मंदिर निर्माण शुरू हो गया। अनुच्छेद 370 स्वाहा हुआ तो लाल चौक पर भी तिरंगा लहरा रहा है। पिछले दिनों प्रयागराज प्रवास पर उन्होंने विपक्षी दलों पर भी निशाना साधा था। अखिलेश यादव द्वारा सपा में तमाम लोगों की ज्वाइनिंग कराने के सवाल पर उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव के साथ मतदाता नहीं गया, बल्कि नेता जा रहे हैं। भाजपा के साथ नेता और मतदाता दोनों हैं।

डिप्‍टी सीएम ने कहा- लखीमपुर व गोरखपुर मामले में दोषियों पर होगी कार्रवाई

लखीमपुर व गोरखपुर में व्यापारी की हत्या के प्रश्न पर गंभीरता से कहा कि दोनों मामलों में सरकार गंभीर है। उसकी जांच चल रही है। सभी दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। छोटे दालों के उभरने व वोटों के नुकसान पर चर्चा करते हुए उप मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले चुनाव में सपा और बसपा ने गठबंधन किया। उसका कोई दुष्प्रभाव हम पर नहीं पड़ा। जनता ने भाजपा पर विश्वास जताया। इस बार भी ऐसा ही होगा। छोटे दल सिर्फ अपनी सौदेबाजी की राजनीति कर रहे हैं। जनता इस बात को भली प्रकार समझती है। इनका कोई खास जनाधार भी नहीं होता है। ये सभी वोटकटवा दल हैं।

बोले- किसान आंदोलन नहीं, बल्कि राजनीतिक आंदोलन है

उप मुख्यमंत्री ने यह भी दोहराया कि कांग्रेस का उत्तर प्रदेश में कोई जनाधार नहीं है। उनके किसी घोषणा या दावे का फर्क नहीं पड़ता। इसी क्रम में किसान आंदोलन के प्रशन पर भी केशव ने कहा कि वास्तव में वह किसान आंदोलन नहीं है बल्कि राजनीतिक आंदोलन है। रहीं बात किसानों की तो भाजपा ने एक नहीं कई योजनाओं किसानों के हित में चलाई हैं। उनका लाभ भी मिल रहा है। आम किसान खुश है और भाजपा के साथ है।

Edited By: Brijesh Srivastava