प्रयागराज, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद भी 21 दिन, सात वचन के पहले सूत्र वाक्य के तहत चल रहे हैैं। कुशीनगर के पूर्व विधायक श्रीनारायण उर्फ भुलई भाई को फोन कर उनका हाल जाना था। वहीं पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी को फोन कर उनसे कुशलक्षेम पूछा। साथ ही प्रयागराज के बारे में जानकारी ली।

प्रधानमंत्री ने पूर्व राज्‍यपाल से कहा-कैसे हैैं त्रिपाठी जी

 प्रधानमंत्री ने फोन पर कहा- कैसे हैैं त्रिपाठी जी। श्री त्रिपाठी बोले, बेहतर हैैं। इसके बाद शुरू हुआ बातचीत का दौर। इसी बीच प्रधानमंत्री ने पूछा, लॉकडाउन में क्या कर रहे हैैं। इस पर पूर्व राज्यपाल बोले, किताबें पढ़ रहा हूं। कविताएं भी लिख रहा हूं। प्रधानमंत्री मोदी बोले, बहुत ही अच्छा। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने प्रयागराज के बारे में जानकारी ली।

शासन, प्रशासन के प्रयासों के बारे में भी ली जानकारी

पीएम मोदी ने शासन-प्रशासन के प्रयासों की भी जानकारी ली। बोले, परिवार (भाजपा) तो लगा ही है। केशरीनाथ ने भी बताया कि उनके बेटे हाई कोर्ट के अपर महाधिवक्ता नीरज त्रिपाठी और बहू कविता रोज भोजन के 200 पैकेट जरूरतमंदों तक पहुंचाते हैैं। वह प्रधानमंत्री से बोले कि यह अच्छा है कि आप हालचाल ले लेते हैैं, यही इंसान को बड़ा बनाता है। इस पर प्रधानमंत्री बोले, बस आप लोगों का स्नेह है। अंत में प्रधानमंत्री ने कहा कि स्वस्थ रहिए और घर में सभी लोगों को मेरा प्रणाम बोलिएगा। पं. केशरीनाथ त्रिपाठी उत्तर प्रदेश विधानसभा के तीन बार अध्यक्ष रह चुके हैैं और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता हैैं। 

पीएम ने पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह गौर से जाना प्रयागराज का हाल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदेश सरकार के पूर्व शिक्षामंत्री डॉ. नरेंद्र सिंह गौर से मोबाइल पर बात करके प्रयागराज का हाल जाना। प्रधानमंत्री ने जरूरतमंद लोगों को दी जाने वाली मदद के बारे में पूछा और कोरोना योद्धाओं का उत्साहवर्धन करने के लिए उन्हें सम्मानित करने के बारे में भी जानकारी ली।

पीएम ने जनता की पूरी सहायता और सहयोग की बात कही

शुक्रवार को पूर्व शिक्षामंत्री डॉ. नरेंद्र सिंह गौर के मोबाइल पर फोन आया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आपसे बात करना चाहते हैं। पीएम नरेंद्र मोदी ने सबसे पहले डॉ. नरेंद्र सिंह गौर से उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। परिवार के सदस्यों के बारे में पूछा। फिर उन्होंने शहर का हाल पूछा। डॉ. नरेंद्र सिंह गौर ने पीएम को बताया कि अभी तक तो प्रयागराज में स्थिति खराब नहीं है। यहां पर पर भाजपा, संघ तथा सामाजिक कार्यकर्ता एवं प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार जिला प्रशासन द्वारा जरूरतमंद लोगों को भोजन और आवश्यक सामान उपलब्ध कराया जा रहा है। प्रधानमंत्री ने जनता की पूरी सहायता और सहयोग करने के लिए कहा। साथ ही स्वास्थ्य कर्मी, सफाई कर्मी, पुलिस एवं जिला प्रशासन के कर्मियों का हौसला बढ़ाने की बात प्रधानमंत्री ने कहीं। पूर्व मंत्री ने उन्हें भरोसा दिलाया कि प्रयागराज में किसी बात की कोई कमी नहीं रहेगी।

 

Edited By: Brijesh Srivastava