प्रयागराज, जागरण संवाददाता। शहर की प्रमुख सड़क म्योर रोड अब हाई कोर्ट के अधिवक्ता व राज्यसभा सदस्य रहे चौधरी चुन्नीलाल के नाम से जानी जाएगी। सड़क का नाम बदलने की प्रक्रिया पूरी हो गई है। चौधरी चुन्नीलाल की 22वीं पुण्यतिथि पर शुक्रवार को तेज बहादुर सप्रू चिकित्सालय बेली में श्रद्धांजलि सभा को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने यह बातें कही। उन्होंने कहा कि चौधरी चुन्नी लाल का जीवन त्यागपूर्ण था। अधिवक्ता व राजनीति में रहते हुए समाज के दबे-कुचले व उपेक्षित लोगों को अधिकार, सम्मान दिलाने के लिए प्रयासरत रहे।

चौधरी जी को रहती थी समाज के अंतिम व्यक्ति की फिक्र

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद ने कहा कि चौधरी चुन्नीलाल को समाज के अंतिम व्यक्ति की चिंता रहती थी। उन्हीं के पदचिह्नों पर चलते हुए उनके पुत्र न्यायमूर्ति गौतम चौधरी प्रेरणादायी कार्य कर रहे हैं। इस अवसर पर चायल के भाजपा विधायक संजय गुप्त ने कहा कि चौधरी चुन्नी लाल जैसी हस्ती सदियों में एक बार जन्म लेती है। उन्होंने जिस क्षेत्र में काम किया वहां सर्वश्रेष्ठ रहे। एडिशनल एडवोकेट जनरल एम सी चतुर्वेदी ने कहा कि चौधरी चुन्नीलाल का कृतित्व-व्यक्तित्व हर किसी के लिए अनुकरणीय है।

अस्पताल में मरीजों को प्रदान किया गया फल

अध्यक्षता केंद्र सरकार के पूर्व एडिशनल एडवोकेट जनरल अशोक मेहता ने की। इस दौरान बेली व टीबी अस्तपाल के मरीजों को फल वितरित किया गया। संयोजन अधिवक्ता अरविंद सिंह ने किया। कार्यक्रम में न्यायमूर्ति गौतम चौधरी, मधु चौधरी, एसके पाल, दिव्यांशु चौधरी, भोला तिवारी, ज्ञान नारायण कनौजिया, रामभजन, मंजू पाल आदि मौजूद रहे।

Edited By: Ankur Tripathi