जागरण संवाददाता, प्रयागराज : खुल्दाबाद पुलिस ने बुधवार को नकली दवा की खेप पकड़ी थी। जांच में पता चला कि धंधा लंबे समय से चल रहा था। जनरल स्टोर का सामान रखने की बात कहकर गोदाम को किराए पर लिया गया था। यह गोरखधंधा करने वाला सौदागर फतेहपुर जनपद का रहने वाला है। अब पुलिस उसकी सरगर्मी से तलाश कर रही है।

खुल्दाबाद इंस्पेक्टर विनीत सिंह ने पीआरवी 112 के पुलिसर्किमयों की सूचना पर बुधवार को अटाला के पास से एक चार पहिया मालवाहक को पकड़ा था। उस पर लदी 45 पेटी से 5400 शीशी खांसी की नकली दवा बरामद की थी। चालक फैज खान निवासी शाहगंज की निशानदेही पर अतरसुइया क्षेत्र में एक गोदाम में छापा मारकर बड़ी संख्या में इंजेक्शन और रैपर भी बरामद किए थे। दवा किसने लदवाई थीं और इसे कहां ले जाना था, इस बारे में चालक कुछ नहीं बताया था। पुलिस ने गोदाम की तलाशी ली तो कुछ कागजात मिले। इसके जरिए पुलिस ने जांच का दायरा आगे बढ़ाया। गुरुवार को पुलिस को पता चला कि गोदाम अतरसुइया के रहने वाले एक व्यक्ति का है। इसे काफी समय पहले फतेहपुर जनपद के खागा थानांतर्गत अजुवा निवासी अनुपम गोस्वामी ने किराए पर लिया था। गोदाम मालिक से कहा था कि जनरल स्टोर के सामान यहां रखेगा। दवाओं की पेटी भी ऐसी रहती थी जिससे यह लगे कि इसमें घरेलू मसाले आदि भरे हुए हैं। इंस्पेक्टर विनीत सिंह का कहना है कि अनुपम गोस्वामी का मोबाइल नंबर मिला है, लेकिन वह स्विच ऑफ है। घर से वह गायब है। चालक ने दवा लदवाने वाले का जो हुलिया बताया था उसके मुताबिक वह अनुपम था। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। वहीं गिरफ्तार चालक फैज खान को गुरुवार को जेल भेज दिया गया। ड्रग्स टीम ने लिए नमूने

नकली दवाओं की खेप पकड़े जाने की जानकारी पुलिस ने ड्रग्स विभाग को दी तो गुरुवार सुबह वह थाने पहुंची। टीम ने दवाओं के नमूने एकत्र किए। पुलिस का कहना है कि दवाओं को सील कर दिया गया है। गोरखधंधे में कई लोग हैं शामिल

पुलिस का मानना है कि अनुपम अकेले शामिल नहीं, उसके कई साथी है उसके साथ थे। अनुपम के मोबाइल की कॉल डिटेल को निकलवाया जा रहा है और इसके बाद संभवत: कई नाम सामने आएंगे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021