प्रयागराज, जागरण संवाददाता। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए इलाहाबाद विश्वविद्यालय ने स्नातक (यूजी) एवं परास्नातक (पीजी) के पाठ्यक्रमों में प्रवेश की प्रक्रिया स्थगित कर दी है। प्रवेश भवन और इवि के सभी कार्यालय 21 जनवरी तक बंद कर दिए गए हैं। इविवि एवं कॉलेजों में विषय सेमेस्टर (प्रथम सेमेस्टर छोड़कर) की परीक्षाएं 21 फरवरी से प्रस्तावित हैं। वार्षिक परीक्षा (प्रथम वर्ष को छोड़कर) 23 मार्च से संभावित हैं। जब विश्वविद्यालय बंद है तो ऐसे में तय समय पर परीक्षा कराना चुनौती होगी। वहीं, स्नातक प्रथम में अभी प्रवेश चल रहा है। पीजी में कुछ ही विभागों में प्रवेश शुरू है। इससे अलग सत्र भी प्रभावित होने की आशंका है। उधर परीक्षा नियंत्रक प्रो. रमेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि विश्वविद्यालय खुलने के बाद परीक्षा समय से कराने का प्रयास किया जाएगा ताकि सत्र न प्रभावित हो सके।

ऑनलाइन हो परीक्षा, जारी हो कार्यक्रम

इवि में छात्रसंघ बहाली की मांग को लेकर छात्रनेता अजय यादव सम्राट के नेतृत्व में मंगलवार को भी अनशन जारी रहा। अनशनकारियों ने मांग की कि पीजी सेमेस्टर और वार्षिक परीक्षा का कार्यक्रम जारी किए जाने की मांग की। छात्र नेता हरेंद्र यादव ने कहा फरवरी माह में पीजी विषय सेमेस्टर की परीक्षाएं होनी है लेकिन अभी तक टाइम टेबल जारी न होने से अभ्यार्थियों के बीच उहापोह की स्थिति बनी हुई है। छात्र नेता नवनीत ने कहा कि कक्षाएं ऑनलाइन चलाई जा रही है तो परीक्षाएं भी ऑनलाइन ही होनी चाहिए। इस मौके पर छात्र नेता चंद्रशेखर अधिकारी,अरविंद यादव, सुधीर गुप्ता, अभिषेक यादव, मसूद अंसारी, शिवबली यादव,अमित कुमार, सलमान इलाहाबादी, नितिन यादव, आदित्य कुमार आदि उपस्थित रहे।

परीक्षा किस माध्यम से होगी, लिखी चिट्ठी

एनएसयूआई के कार्यकारी अध्यक्ष वैभव सिंह ने कुलपति व परीक्षा नियंत्रक को पत्र लिखकर आगामी सेमेस्टर व वार्षिक परीक्षाओं के माध्यम की घोषणा करने की मांग की। किस माध्यम से परीक्षा होगी इसे स्पष्ट किया जाए।

Edited By: Ankur Tripathi