प्रयागराज, जेएनएन। इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय (इविवि) के संघटक महाविद्यालय चौधरी महादेव प्रसाद डिग्री कॉलेज (सीएमपी) में अर्थशास्त्र विभाग की असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. सुमेधा पांडेय आइईएस बन गई हैं। उन्होंने संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) 2019 की परीक्षा में पांचवीं रैंक हासिल की है। फरवरी 2018 में सीएमपी में उनकी नियुक्ति हुई थी।

...फिर भी सुमेधा ने तैयारी जारी रखी

मूलरूप से झूंसी के त्रिवेणीपुरम् की रहने वाली सुमेधा के पिता रमेश पांडेय फॉरेस्ट अफसर और मां पद्मा पांडेय गृहिणी हैं। सेंट मेरीज कॉन्वेंट से 10वीं और 12वीं की पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने जगत तारन गर्ल्‍स डिग्री कॉलेज से स्नातक और वर्ष 2017 में इविवि से अर्थशास्त्र में परास्नातक की उपाधि हासिल की। इसके बाद अर्थशास्त्र विभाग के प्रोफेसर मनमोहन कृष्ण के निर्देशन में शोध कार्य शुरू किया। इसी बीच फरवरी 2018 में उनकी नियुक्ति सीएमपी कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर हुई। फिर भी उन्होंने तैयारी जारी रखी।

बोलीं सुमेधा, खुद पर यदि भरोसा रहे तो कोई भी मंजिल मिल सकती है

सुमेधा ने बताया कि वह कॉलेज के वक्त दो घंटे और छुट्टियों के दौरान आठ से नौ घंटे पढ़ाई करती थीं। उन्होंने दूसरे प्रयास में सफलता हासिल की। उनका चयन आइइएस के लिए हुआ है। सुमेधा ने अपनी सफलता का श्रेय प्रो. मनमोहन कृष्ण, मां पद्मा, पिता रमेश और सहकर्मी अदिति पांडेय को दिया है। सुमेधा ने बताया कि यह आवश्यक नहीं है कि बिना कोचिंग सफलता नहीं हासिल की जा सकती है। खुद पर यदि भरोसा रहे तो कोई भी मंजिल मेहनत के दम पर आसानी से हासिल की जा सकती है।

 

Edited By: Brijesh Srivastava