Move to Jagran APP

मोबाइल पर गेम खेलने से मना करने पर किशोर ने छोड़ा घर, जानिए फिर क्‍या हुआ Aligarh news

मोबाइल फोन पर गेम खेलने की आदत बच्चों को जिद्​दी बना रही है। ऐसे ही एक मामले में बुलंदशहर के छतारी थाना क्षेत्र के किशोर मोबाइल पर गेम खेलने से मना करने व मां के डांट देने पर नाराज बेटा घर अलीगढ़ स्टेशन आ गया।

By Anil KushwahaEdited By: Mon, 16 Aug 2021 08:15 AM (IST)
मोबाइल पर गेम खेलने से मना करने पर किशोर ने छोड़ा घर, जानिए फिर क्‍या हुआ Aligarh news
अलीगढ़ रेलवे स्‍टेशन पर आरपीएफ की निगरानी में किशोर।

अलीगढ़, जेएनएन । मोबाइल फोन पर गेम खेलने की आदत बच्चों को जिद्​दी बना रही है। ऐसे ही एक मामले में बुलंदशहर के छतारी थाना क्षेत्र के एक गांव का 12 वर्षीय किशोर मोबाइल पर गेम खेलने से मना करने व मां के डांट देने पर नाराज बेटा घर से करीब 35 किलोमीटर दूर अलीगढ़ स्टेशन आ गया। यहां से वह किसी ट्रेन में सवार होकर कहीं जाना चाहता था, उससे पहले ही स्टेशन पर मुस्तैद चाइल्ड लाइन व आरपीएफ की टीम ने बच्चे को पकड़ लिया। यहां किशोर ने सारी सच्चाई बयां कर दी। जिस पर बालक के स्वजन को बुलाया गया और उन्हें सौंप दिया गया।

मोबाइल पर गेम खेलता था

आरपीएफ इंस्पेक्टर सीएस तोमर ने बताया कि बुलंदशहर के थाना छतारी के गांव नगला छतारी निवासी संजय का 12 साल का बेटा अनुराग मोबाइल पर गेम खेलता है। रविवार को मां ने उसे डांट दिया और मोबाइल फोन छीन लिया। अनुराग नाराज होकर घर से निकल आया। छतारी से वह अलीगढ़ आ रही एक बस में बैठ गया फिर सीधा रेलवे स्टेशन पहुंच गया। यहां चाइल्ड लाइन की टीम ने किशोर को अकेले भटकते हुए देखा तो आरपीएफ की टीम की मदद से उसे रोक कर पूछताछ की। अनुराग ने बताया कि वह अब वह घर जाना चाहता है। हालांकि बालक अपने घर का कोई संपर्क नंबर नहीं बता सका। बताए गए पते के आधार पर छतारी इंस्पेक्टर की मदद से स्वजन को खबर दी गई। देर शाम किशोर को स्वजन की सपुर्दगी में सौप दिया गया।