मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

अलीगढ़ : जनपद के देहात इलाकों में तीन लोगों की हत्या कर दी गई है। अलग-अलग क्षेत्रों में हुई घटना से लोगों में सनसनी फैल गई। थाना लोधा क्षेत्र के गाव नादाबाजीद पुर में बीती रात रामदयाल (60)के साथ हाथपैर बाधकर मारपीट करने के बाद गला घोंट कर हत्या कर दी गई। वह गाव के बाहर मकान पर अकेले थे। परिजन गाव में स्थित मकान में थे, जिन्हें सुबह घटना की जानकारी हुई। परिजनों ने लूट का आरोप लगाया है। इसके अलावा थाना पालीमुकीमपुर में छत पर सौ रहे तीन लोगों पर हमला बोल दिया गया। इनमें दो की मौत हो गई। परिजनों ने हत्यारों को पकड़ने की मांग को लेकर शव नहीं उठने दिया, लेकिन बाद में मान गए। बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री संदीप सिंह ने मौके पर जाकर परिजनों को सांत्वना दी।

थाना पलीमुकीमपुर के गाव मिल्क स्थित बूढ़ा आश्रम, शिव मंदिर की छत पर सो रहे तीन लोगों पर रात हमला किया गया। तीनों को लाठी, डंडों से बुरी तरह पीटा गया। इससे मंदिर में 20 साल से रह रहे गाव खुशीपूरा के कालीदास (75) व नगला रोशन के सोनपाल (50) की मौत हो गई। मंदिर के पुजारी गाव रूपवास के महेंद्र सिंह को गम्भीर हालत में मेडिकल कॉलेज भेजा गया है। सुबह जानकारी होने पर लोगों की भीड़ एकत्रित हो गई। पुलिस भी पहुंच गई। कार्रवाई की माग को लेकर शव उठाने नहीं दिया। बाद में एसडीएम के हस्तक्षेप के बाद परिजन मान गए। हत्या का कारण नहीं पता लग सका है। आरोप है कि संत कालीदास के साथ कई बार मारपीट हुई थी, लेकिन शिकायत के बाद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। इधर जानकारी मिलने पर एसएसपी अजय साहनी मौके पर पहुंच गए और घटना की जानकारी ली। जिले में हुई तीन हत्याओं से अफसरों में भी खलबली मच गई है हालांकि पुलिस सक्रिय हो गई है, लेकिन बदमाशों की टोह तक नहीं ले पाई है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप