जागरण संवाददाता, अलीगढ़ : पुरानी रंजिश को लेकर अतरौली के गांव बूलापुर में शनिवार दोपहर को एक साधु ने भाजपा के पूर्व जिला मंत्री व पूर्व जिला पंचायत सदस्य बोधपाल सिंह को गोली मार दी। वे यहां चुनाव प्रचार के लिए आए थे। गोली उनकी कमर को छूते हुए निकल गई। साधु यहीं नहीं रुका, फरसा से भाजपा नेता का सिर फाड़ दिया। इस हमले में उनका अंगूठा भी कट गया। घायल भाजपा नेता को अलीगढ़ के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इधर, लोगों ने साधु को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया।

मूलरूप से छर्रा के गांव सिरसा निवासी चौधरी बोधपाल सिंह अलीगढ़ में शंकर विहार कालोनी में रह रहे हैं। छर्रा क्षेत्र में उनके इंटर और डिग्री कालेज हैं। भाजपा से वार्ड नंबर तीन से जिला पंचायत सदस्य के दावेदार हैं। वे शनिवार को प्रचार के लिए निकले थे। दोपहर साढ़े तीन बजे बूलापुर गांव पहुंचे। समर्थकों से बातचीत के बाद बोधपाल गाड़ी में बैठ ही रहे थे कि साधु रामेश्वर शर्मा उर्फ नेकसेलाल तमंचा लेकर आ गया और बोधपाल पर पीछे से गोली चला दी, जो कि दाहिनी ओर कमर से छूते हुए निकल गई। इसके बाद साधु ने तमंचा फेंक दिया और फरसे से सिर पर वार किया। बचाव में बोधपाल ने दाहिना हाथ आगे किया, जिससे उनका अंगूठा भी कट गया। घायल बोधपाल को अलीगढ़ के वरुण ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है। उनके अंगूठे और सिर में टांके लगाए गए हैं।

25 साल से भाजपा नेता से चिढ़ता था साधु

सीओ सुदेश गुप्ता ने बताया कि रामेश्वर भी गांव सिरसा का रहने वाला है। पूछताछ में उसने बताया है कि 25 साल पहले उसकी जमीन पर कब्जा कर लिया गया था। बोधपाल ने ही उसे परिवार से अलग होने व साधु बनने के लिए मजबूर किया। 25 साल से वह गांव नहीं गया। बूलापुर में ही कुटिया बनाकर रहता था। बोधपाल अक्सर उसकी बेइज्जती करता था। इसी बात को लेकर साधु भाजपा नेता से खुन्नस मानता था। घटना को चुनावी रंजिश से भी जोड़कर देखा जा रहा है। क्योंकि वर्तमान में उनपर पंचायत चुनाव में बिजौली ब्लाक के संयोजक की जिम्मेदारी भी है।

अस्पताल पहुंचकर जाना हाल

सांसद सतीश कुमार गौतम, राजेश भारद्वाज, चौधरी नत्थी सिंह, शिव नारायण शर्मा, पूर्व ब्लाक प्रमुख मनोज, जिलाध्यक्ष चौधरी ऋषिपाल सिंह, कर्मचारी नेता सुरेंद्र चौधरी ने अस्पताल पहुंचकर भाजपा नेता का हाल जाना।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप