अलीगढ़ (जेएनएन)। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में रैगिंग का मामला सामने आया है। भाजपा के बरौली विधायक दलवीर सिंह के नाती विजय कुमार सिंह ने आरोप लगाया है कि वरिष्ठ छात्रों ने कक्षा में घुसकर उस समेत अन्य छात्रों से नाम-पते पूछे। किसी छात्र को खड़ा कर लिया तो किसी को बिठा लिया। विजय ने इसकी शिकायत प्रॉक्टर कार्यालय व सिविल लाइंस थाने में भी की है। इंतजामिया ने जांच बिठा दी है। विजय के बड़े भाई अजय सिंह भी एएमयू के छात्र हैैं, जो एक मामले में निलंबित चल रहे हैैं।

शिक्षकों के सामने हुई गाली गलौज

विजय ने इसी साल फॉरेन लैंग्वेज डिपार्टमेंट में बीए (स्पेनिस) में दाखिला लिया है। बुधवार को पहले ही दिन पढऩे गए थे। विजय का आरोप है कि सुबह 11:10 बजे वह अपनी कक्षा में थे। शिक्षक पढ़ा रहे थे, तभी कुछ छात्र घुस आए। कुछ देर बाद शिक्षक चले गए। इसके बाद छात्रों ने कक्षा में बैठे छात्रों से नाम-पते पूछे। उन्हें खड़ा कराया और बिठाया। मैंने नाम बताने से इन्कार कर दिया। इसी बात पर वह भड़क गए और गाली-गलौज करने लगे। इनमें से कुछ को मैं पहचानता भी हूं। सूचना पर कुछ देर बाद प्रॉक्टरियल टीम आ गई। इसके बाद मामला शांत हो गया। दोपहर में भी मेरी क्लास थी। जब मैं क्लास करने जा रहा था, तब 50-60 लड़के वहां पहले से खड़े मिले। उन्होंने फिर अभद्रता की। काफी देर बहस हुई इसके बाद ही छात्र वहां से हटे।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय में होगी शिकायत

विजय ने बताया कि रैगिंग का मामला गंभीर है। एएमयू जैसी शिक्षण संस्थान में यह नहीं होना चाहिए। इसकी शिकयत करने दिल्ली जा रहा हूं। मानव संसाधन विकास मंत्रालय में शिकायत की जाएगी।

ये और प्राण पीने आ गया

विजय की मानें तो प्रॉक्टर कायालय टीम यह चर्चा कर रही थी कि अजय सिंह को जैसे तैसे निलंबित कराया है। अब ये और प्राण पीने के लिए आ गया है।

जांच के बाद होगी कार्रवाई

एएमयू प्रॉक्टर प्रो.अफीफुल्लाह का कहना है कि छात्र की ओर से शिकायती पत्र मिला है, जिसे जांच के लिए डिपार्टमेंट की एंटी रैगिंग टीम को भेज दिया है। इसके बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। सिविल लाइन के इंस्पेक्टर अमित कुमार का कहना है कि विजय की ओर से तहरीर मिली है। मामला रैगिंग का है। यूनिवर्सिटी की जांच में क्या निकलता है, इसके आधार पर ही कार्रवाई की जाएगी।