अलीगढ़, जेएनएन ।  पंचायत चुनाव को लेकर प्रशासनिक तैयारियां तेज चल रही हैं। अब जिले में पंचायती राज विभाग की अफसर आरक्षण तैयार करने में लगे हैं। दो मार्च तक बीडीसी, प्रधानी व जिला पंचायत सदस्य का प्रस्तावित आरक्षण जारी होना है। इसके बाद आठ मार्च को अंतिम आरक्षण जारी किया जाएगा। पिछले पांच चुनावों में कभी अारक्षित न रहने वाली सीटों को प्राथमिकता से आरक्षित किया जाएगा।  

यह है शासन की योजना

अप्रैल में चुनाव प्रस्तावित हैं। शासन स्तर से पिछले दिनों आरक्षण को लेकर आदेश जारी कर दिया गया है। इसमें इस बार बड़ा बदलाव होने की संभावना है। शासनादेस के अनुसार जिस ग्राम सभा में भले ही दो वोट एससी,एसटी, ओबीसी की हो उन ग्राम सभा, बीडीसी की सीट भी एससी, एसटी, ओबीसी के लिए आरक्षित हो सकती है। साल 1995, 2000, 2005, 2010 और 2015 में जो ग्राम सभा अनुसूचित जाति के लिए रिजर्व थी, वह ग्राम सभा इस बार अनुसूचित जाति के लिए आवंटित नहीं होगी। जो पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित थीं, वे इस बार अनुसूचित जाति के लिए आवंटित नहीं होगी। जो पिछड़ा वर्गों के लिए आरक्षित रह चुकी हैं, उन्हें पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित नहीं होगी। दो मार्च तक हर हाल में पंचायती राज विभाग को प्रस्तावित आरक्षण जारी करना है। इसके बाद तीन मार्च तक दावे एवं आपत्तियां मांगी जाएंगी। इनका निस्तारण चार से आठ मार्च के बीच होगा है। 8 मार्च को अंतिम आरक्षण जारी होगा। 

 नंबर से होगा आधार 

जिले में पिछले चुनावों में जिला पंचायत के कुल 52 बार्ड थे, लेकिन इस बार महज 47 ही रह गए हैं। ऐसे में तमाम वार्ड का क्षेत्र बदल गया है। ऐसे में शासन स्तर नंबर के हिसाब से ही चक्रानुक्रम में आरक्षण होगा। 

यह है जिले की स्थिति 

867 ग्राम पंचायत

10973 ग्राम पंचायत वार्डों की संख्या

47 जिला पंचायत वार्डों की संख्या

1126 क्षेत्र पंचायत वार्डों की संख्या

1375 मतदान केन्द्र

2883 मतदान स्थल

1801575 मतदाता

इस तरह हुआ प्रधानी का ब्लाकवार निर्धारण 

जिले इस बार कुल 867 ग्राम पंचायतों में चुनाव होने हैं। इसमें 69 पद एससी महिला के लिए आरक्षित रहेंगे। वहीं, 122 एससी के लिए होंगे। इसी तरह 84 पद पिछड़ा वर्ग की महिलाओं के लिए व 152 पद पिछड़ा वर्ग पुरुषों के लिए होंगे। इसके अलावा 141 सीटें महिलाओं के लिए होंगी। इसमें किसी भी वर्ग की कोई भी महिला अपनी दावेदारी ठोंक सकती है। इसके अलावा 299 पद अनारक्षित होंगे। इसमे किसी भी वर्ग का कोई भी महिला-पुरुष उम्मीदवार प्रत्याशी बन सकेगा। 

आरक्षण को लेकर तैयारियां चल रही हैं। दो मार्च तक प्रस्तावित आरक्षण जारी कर दिया जाएगा। 

पारुल सिसौदिया, डीपीआरओ

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021