अलीगढ़, जेएनएन।  आप ट्रेन में सफर कर रहे हैं तो यह भलीभांति चेक कर लें कि आपके पास आपका टिकट और फोटो आईडी कार्ड मौजूद हैं। अगर आप ये भूले तो सफर करने में मुश्किलें आ सकती हैं। खास तौर पर अगर आप आईडी कार्ड भूले तो सफर करने में परेशानी हाे सकती है। इतना ही नहीं आपकी छोटी सी भूल आपको यात्रा करने से भी वंचित कर सकती है। रेलवे नियमों के अनुसार ऐसी स्थिति में आपको बिना टिकट माना जाएगा।

असली पहचान पत्र जरुरी

सफर के दौरान टीटीइ यात्री से आनलाइन टिकट के साथ ही असली आईडी कार्ड मांग सकता है। अगर आपके पास कोई भी पहचान पत्र नहीं है तो आपको बगैर टिकट माना जाएगा और आप पर रेलवे नियमों के मुताबिक जुर्माने के साथ ही सजा की कार्रवाई भी होगी।

इनको दे रखी है मंजूरी

भारतीय रेलवे ने आईडी प्रूफ के तौर पर पासपोर्ट, वोटर आईडी कार्ड, वोटिंग कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड, राष्ट्रीय बैंक की पासबुक, पैन कार्ड, स्कूल, कालेज का आईडी कार्ड, बैंकों की ओर से जारी क्रेडिट कार्ड आदि शामिल हैं।

डिजीटल कापी भी मान्य

ट्रेन से सफर के दौरान आप फिजिकल फोटो आईडी लेकर नहीं चल रहे हैं तो घबराएं नहीं। आप अपने मोबाइल में पहचान पत्र की डिजिटल कापी भी दिखा सकते हैं। सरकार ने अपने जरूरी कागजातों को सुरक्षित तरीके से रखने के लिए डिजीलाकर की सुविधा दे रखी है। इसमें आप अपना आधार कार्ड, पासपोर्ट, पैन कार्ड जैसी जरूरी दस्तावेज साथ रख सकते हैं।

Edited By: Anil Kushwaha