अलीगढ़ [जेएनएन]  अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के छात्रों के ङ्क्षहदुत्व के विरोध में बोलने पर भाजयुमो कार्यकर्ताओं और ङ्क्षहदूवादी संगठनों में रविवार को उबाल आ गया। वे सड़कों पर उतर आए। एएमयू छात्रों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। कहा, एएमयू छात्र 'ङ्क्षहदुत्व की कब्र खुदेगी, जैसे नारे लगाकर आग उगल रहे हैं और प्रशासन कुछ नहीं कर रहा है। ङ्क्षहदूवादी संगठनों ने भी 'हम देकर रहेंगे आजादी, मन्नान को दी आजादीÓ जैसे नारे लगाकर हिदायत दी। प्रशासन को चेताया कि आग उगलने वाले छात्रों के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं हुई तो हम एएमयू की ओर कूच कर देंगे। एएमयू में छात्रों ने नागरिकता कानून के विरोध में ङ्क्षहदुत्व के खिलाफ जमकर नारेबाजी की थी। छात्रों ने मोदी और अमित शाह के खिलाफ भी आग उगली थी। इससे शनिवार शाम को ही सोशल मीडिया पर आक्रोश शुरू हो गया था। 

सावरकर की कब्र खोदने की बात पर भड़के हिंदूवादी

रविवार को भाजयुमो जिलाध्यक्ष मुकेश लोधी के नेतृत्व में कार्यकर्ता दोपहर 12:30 बजे विद्यानगर स्थित कार्यालय से कूच कर गए। एएमयू के खिलाफ नारेबाजी करते हुए एसएसपी कार्यालय पहुंचे। यहां पर एसपी क्राइम डॉ. अरविंद कुमार को ज्ञापन दिया। मुकेश लोधी ने कहा कि एएमयू के विधि विभाग व अन्य छात्र नागरिकता कानून के विरोध में मार्च निकाल रहे हैं और प्रदर्शन कर रहे हैं। वीर सावरकर की कब्र खोदने जैसी बात कह रहे हैं। इससे एएमयू के छात्रों की देश विरोधी मानसिकता साफ दिख रही है। राष्ट्र और ङ्क्षहदुत्व विरोधी नारे लगाकर वे प्रदर्शित कर रहे हैं कि देश के कानून को नहीं मानते। एएमयू इंतजामिया शिक्षा के मंदिर को पवित्र बनाए रखने में सहयोग करे। एसएसपी के नाम दिए ज्ञापन में एएमयू छात्रों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की। कहा, माहौल खराब करने वाले छात्रों को चिह्नित कर कैंपस से निकाला जाए। मांगें नहीं मानी गईं तो पूरे प्रदेश में जेल भरो आंदोलन करेंगे। इस मौके पर प्रतीक चौहान, मनोज ठाकुर, आशीष गौड़, प्रमोद कुमार, लोकेश कुमार, सतीश चौधरी आदि मौजूद थे। 

'तुम्हे देकर रहेंगे आजादी' के नारे

दोपहर 12 बजे अचलताल गुमटी पर ङ्क्षहदूवादी संगठन एकत्र हुए। यहां सभा करने के बाद रामलीला मैदान की ओर कूच कर दिया। ङ्क्षहदूवादी नेता नारे लगाते हुए चल रहे थे। 'हम देकर रहेंगे आजादी, एएमयू को देंगे आजादी, कसाब, अफजल और मन्नान को दे दी हमने आजादीÓ जैसे नारे लगा रहे थे। कुछ ही दूरी पर एसीएम प्रथम कुलदेव सिंह, सीओ द्वितीय प्रशांत सिंह और एसओ गांधी पार्क शंभूनाथ सिंह ने रोककर उनसे ज्ञापन लिया। अखंड भारत ङ्क्षहदू सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष दीपक शर्मा आजाद ने कहा कि ङ्क्षहदुत्व के खिलाफ नारेबाजी करने वाले छात्रों को जल्द गिरफ्तार किया किया जाए, वरना एएमयू की तरफ कूच कर देंगे। प्रशासन सक्षम नहीं है तो उन्हें जेल में डाल दिया जाए। एएमयू छात्र अपना आपा खो बैठे हैं, इसलिए नागरिकता कानून पर पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग कर रहे हैं। ङ्क्षहदू युवा वाहिनी के मंडल प्रभारी योगी कौशलनाथ ने कहा कि देशहित में जब भी केंद्र सरकार कदम उठाती है तो एएमयू छात्र विरोध पर उतर आते हैं। 24 घंटे के अंदर ङ्क्षहदुत्व विरोधी नारे लगाने वाले छात्रों को गिरफ्तार किया जाए। 

शिवसेना के जिला युवा प्रमुख अमित सोनी ने कहा कि ङ्क्षहदुत्व की कब्र खोदने की बात तो दूर, इधर आंख भी उठाई तो मुंहतोड़ जवाब देंगे। अखिल भारत ङ्क्षहदू महासभा के प्रदेश उपाध्यक्ष गजेंद्र पाल सिंह आर्य ने कहा कि एएमयू से ही देश के बंटवारे की आवाज उठी थी। एएमयू छात्र हमेशा देश के खिलाफ आग उगलते हैं।

इस मौके पर आशू पंडित, राष्ट्रीय बजरंग दल के जिला अध्यक्ष पंकज पंडित, प्रशांत समाधिया, सुमित शर्मा, नितिन चौधरी, सोनू चौधरी, विशाल देशभक्त, कपिल चौधरी, धु्रव पाराशर, हिमांशु भारद्वाज, अभिषेक शर्मा, अन्ना पंडित, सचिन प्रधान, शिवम मौजूद थे।   

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस