अलीगढ़, जागरण संवाददाता।  भाजपा चुनाव समिति के पदाधिरियों को टिप्‍स देने अलीगढ़ आ रहे उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का सर्किट हाउस व खेरेश्‍वर में स्‍वागत किया गया।सर्किट हाउस में आयोजित कार्यक्रम में डिप्‍टी सीएम ने  डिप्टी सीएम ने 274 करोड़ की योजानाओं का शिलान्यास व लोकापर्ण किया। साथ ही कहा सपा का अब इनका वह जिन्न बाहर आया। इन्हें देश को बांटने वाले जिन्ना की याद आयी है।लेकिन, अखिलेश जी आपको इस बार जिन्ना भी नहीं बचा सकता है। इस बार यह भारत माता की जय बोलने को मजबूर होंगे। वोट के लिए यह कुछ भी करेंगे।कोरोना वैक्सीन से 100 करोड़ को लाभ मिला। अखिलेश ने इसे भी भाजपा की वैक्सीन बताई। हम न अब 2022 में हारेंगे ओर न 2024 में हारेंगे। हमको जनता पर भरोसा है। 2022 में फिर कमल खिलाना है। भारत को विश्व गुरु बनाना है

अखिलेश ने किसानों के लिए कुछ भी नहीं किया

रामघाट रोड की घोषणा राम घाट कल्याण मार्ग करने का जिक्र किया। कहा कि अब इस परियोजना में बाईपास बनेगा। यह फोर लेन बनेगा।प्रस्ताव बन चुका है। भाजपा की सरकार आने के बाद प्रदेश में तेजी से विकास हुआ है। डबल इंजन की सरकार का फायदा हुआ है। यहां अब मिसाइल बनेगी। पाकिस्तान में बैठें इमरान खान यह सुन लें कि अगर आतंकबादी के फेक्ट्री बन्द नहीं कि तो अलीगढ की मिसाइल इस्लामाबाद में गिरेगी।अयोध्या में भव्य राम मंदिर बन रह है।यह डबल इंजन की सरकार का फायदा है। बाबू जी कल्याण सिंह ने जो प्रयास किये, वह अब पूरे हो रहे हैं। यह सब मतदाताओं के आशीर्वाद से संभव है। धारा 370 भी इसी वजह से हटी। यह मतदाताओं की ताकत का असर है।जनता का आशीर्वाद है। यह उसी का प्रतिफल है। अगर गरीब कल्याण की बात करें तो केंद्र व राज्य सरकार तेजी से कम कर रही है। किसानों के लिए बहुत कामकिया है। राहुल अखिलेश ने किसानों के लिए कुछ नहीं किया। अब किसानों की आमदनी बढ़ रही है।तीन कृषि कानून का विरोध हो रहा था। इस पर पीएम ने साहसिक निर्णय लिया। तीनों कानून वापस हुए। उन्होंने क्षमा मांगते हुए वापस किये। कहा कि हम किसानों को समझा नहीं पाए। कुम्भ मेला में सफाई करने वालों के चरण पखारते हैं। इतना संम्मान कौन कर सकता है। पीएम के यह विशाल निर्णय है।लेकिन, अब भी कुछ लोग अपनी दुकान चला रहे हैं। पीएम ने इनकी दुकानें बंद कर दी।लेकिन, यह अब भी शांत नहीं हो रहे हैं। गरीबों के लिए कड़े निर्णय लेने से भाजपा पीछे नहीं हटती। यूपी ने 2014 में 73 सांसद पीएम को दिए। उस दौरान अखिलेश कहते थे कि सपा 70 से अधिक सीटें जीतेंगी। बुआ भी यही सोच रही थी। लेकिन, जनता ने साइकिल में पंचर किया ।लोकसभा चुनाव हुआ। यूपी के सबसे बडा गंठबंधन हुआ। सपा, बसपा ओर रालोद एक हुए। इनके मुंगरी लाल के सपने सच हुए। लेकिन, फिर उत्तर प्रदेश ने इन्हें जबाव दिया। अब कह रहे हैं सपा बदल गयी है। क्या सपा के गुंडे बदल सकते हैं। अब 2022 में भी जनता के आशीर्वाद से 300 से अधिक कमल खिलेंगे। मै वादा कर रहा हूँ।

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का जिले में दो कार्यक्रम हैं। पहला कार्यक्रम सर्किट हाउस में विकास योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास है। दूसरा कार्यक्रम मुकुंदपुर में चुनाव संचालन समिति की बैठक है। सर्किट हाउस में कार्यक्रम की तैयारियां पूरी हो गई है। दोपहर में यहां पर नहीं पहुंचे थे। उपमुख्यमंत्री 26 9 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे। मीडिया से भी बातचीत करेंगे. करीब 1 घंटे का यहां पर कार्यक्रम बाद मुख्यमंत्री मुकुंदपुर निकल जाएंगे।मुकुंदपुर में अलीगढ़ हाथरस कासगंज और एटा की प्रतिनिधि आएंगे.यहां पर प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र से 17-17 प्रतिनिधियों को बुलाया गया है। वो चुनाव को लेकर बैठक करेंगे।