आगरा, जेएनएन। शहर कोतवाली में तैनात मुजफ्फरनगर जनपद के रहने वाले सिपाही का शव पुलिस लाइन के गेट पर पड़ा मिला। सिपाही को मेडिकल कालेज ले जाया गया मगर डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। यह सिपाही 15 दिन से ड्यूटी से गायब था। पुलिस कई एंगल से मामले की की जांच कर रही है।

मुजफ्फरनगर जनपद के थाना क्षेत्र सिकैरा के गांव नगला कबीर निवासी 32 वर्षीय सिपाही अंकित को शहर कोतवाली से जलेसर विशेष ड्यूटी के लिए भेजा गया था। वहां से 3 सितंबर को वह गायब हो गए। इसके बाद वह कहां गए, कहां रहे, इस बारे में साथी पुलिसकर्मी भी कुछ नहीं बता पा रहे। सिपाही के बारे में यह भी बताया गया है कि वह पुलिस लाइन की बैरक में रहते थे जबकि परिवार मुजफ्फरनगर में रहता है। यह जानकारी भी सामने आई है कि इसी वर्ष 4 मार्च को भी अंकित कुछ दिन के लिए ड्यूटी से गायब हो गए थे उस समय भी वे शहर कोतवाली में ही तैनात थे। पुलिस अंकित की काल डिटेल खंगाल रही है ताकि यह पता चल सके कि गायब होने के बाद उनकी किससे बात होती थी। सीओ सिटी राजकुमार ने बताया कि कई एंगल से मामले की जांच शुरू कर दी कर दी गई है, सिपाही का पोस्टमार्टम डाक्टरों के पैनल से कराया जा रहा है। मृतक का परिवार भी एटा आ रहा है। 

Edited By: Prateek Gupta