आगरा(जेएनएन): लुटेरे भगवान का घर लूटने आए थे, लेकिन जब सोते हुए भगवान के भक्त की आंख खुली तो उसे बेरहमी से मौत की नींद सुलाकर लुटेरे फरार हो गए। घटना मथुरा के थाना बलदेव की है।

मंगलवार देर रात थाना बलदेव में बलदेव- बिरोना मार्ग स्थित वनखंडी महादेव का मंदिर है। मंदिर की सेवा करने वाले पुजारी की मंगलवार की रात बदमाशों ने चाकूओं से गोदकर हत्या कर दी। सुबह जब पुजारी की हत्या की जानकारी स्थानीय लोगों को हुई तो क्षेत्र में सनसनी फैल गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

70 वर्षीय श्याम बाबा उर्फ श्याम गिरी 12 वर्ष से वनखंडी महादेव मंदिर पर पूजा-पाठ कर रहे थे। वे यहीं रहकर अपना जीवन यापन करते थे। मंगलवार की रात वह मंदिर का ताला लगाकर बाहर सो रहे थे। बदमाशों ने लूट के उद्देश्य से मंदिर के गेट का छैनी-हथौड़ा से ताला तोड़ दिया। आवाजों से पुजारी की आंख खुल गई। यह देखकर बदमाश पुजारी को मंदिर के अंदर वाले कमरे में ले गए। कमरे में पलंग पर डालकर चाकूओं से गोदकर मार डाला। पुजारी के पूरे शरीर पर चाकूओं के निशान हैं। लूट के बारे में अभी जानकारी नहीं मिल सकी है। सुबह स्थानीय महिला मंदिर में पूजा करने के लिए पहुंची तो पुजारी की हत्या की जानकारी मिली। पुजारी की हत्या से लोगों में अफरा-तफरी मच गई। स्थानीय लोग घटना स्थल पर पहुंच गए। 100 नंबर पर सूचना देने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने पुजारी के शव को पोस्टमार्टम को भेजा है। पुलिस घटना की जाच में जुटी है।

Posted By: Jagran