जेएनएन, आगरा। बाह में वन विभाग, पुलिस और प्रशासन की आंख में धूल झोंककर खनन माफिया यमुना नदी से बालू का खनन करने में जुटे हैं। बेखौफ खनन माफिया के गुर्गे ने शुक्रवार सुबह पहुंचे वन दारोगा और वन रक्षक को ट्रैक्टर चढ़ाने से कुचलने का प्रयास किया। हालांकि इस हमले में वे बच गए। उन्होंने दौड़कर जान बचाई। वारदात के बाद चालक ट्रैक्टर-ट्राली छोड़कर भाग निकला। उन्होंने ट्रैक्टर-ट्राली जब्त कर ली है। मामले में थाना बाह में तहरीर दी गई है। पुलिस का कहना है कि आरोपित की तलाश में दबिश दी जा रही है। उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

वन दारोगा सज्जन सिंह और वन रक्षक रामदीन के मुताबिक शुक्रवार सुबह छह बजे जैतपुर के कछपुरा में यमुना के घाट से बालू के अवैध खनन की सूचना मिली थी। इस पर दोनों बाइक से मौके पर पहुंच गए। वन दारोगा के मुताबिक वहां कछपुरा निवासी दिनेश ट्रैक्टर-ट्राली में बालू लादकर ले जा रहा था। उसे रोकने का प्रयास किया तो उसने ट्रैक्टर दौड़ा दिया। इस दौरान ट्रैक्टर-ट्राली से उनकी बाइक को कुचलने का प्रयास किया गया। वनकर्मियों ने बाइक छोड़कर जान बचाई। वन दारोगा के मुताबिक इसके बाद पीछा करने पर दिनेश ट्रैक्टर-ट्राली को छोड़कर भाग निकला। ट्रैक्टर ट्राली को बाह के रेंज कार्यालय में ले जाया गया है। उधर, वन कर्मियों ने इसकी रिपोर्ट बनाकर डीएफओ को भेज दी है। मामले में पुलिस का कहना है कि आरोपित के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की जाएगी। शुक्रवार की रात भी पुलिस ने आरोपित की तलाश में उसके घर पर दबिश दी लेकिन वह नहीं मिला।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप