आगरा, जागरण संवाददाता । ग्राम पंचायत को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में जिले में पहला कामन फैसिलिटी सेंटर बनने जा रहा है। इसका संचालन ग्राम पंचायत करेगी। इससे न सिर्फ ग्राम पंचायत की आय में वृद्धि होगी बल्कि कारीगर भी प्रोत्साहित होंगे।

यह कामन फैसिलिटी सेंटर बिचपुरी ब्लाक की लड़ामदा ग्राम पंचायत में बनेगा। फतेहपुर सीकरी रोड पर बनने वाले इस सेंटर में प्रदर्शनी हाल के साथ ही आउटलेट भी होगा। वहां कारीगर अपने प्रोडक्ट का न सिर्फ प्रदर्शन कर सकेंगे बल्कि बिक्री भी कर सकेंगे।

श्यामा प्रसाद रूर्बन मिशन योजना के अंतर्गत मिढ़ाकुर क्लस्टर के लड़मदा गांव में दो करोड़ रुपये लागत से यह आधुनिक फैसिलिटी सेंटर बनेगा। आगरा-फतेहपुर सीकरी रोड पर पर्यटकों का अधिक आवागमन होता है, इसलिए लड़ामदा गांव को चुना गया है। यह सेंटर रोड किनारे होगा। इस प्रस्ताव को स्वीकृति मिल चुकी है। इस योजना का उद्देश्य ग्राम पंचायत को आत्मनिर्भर बनाने के साथ ही कारीगरों को भी प्रोत्साहित करना है। फैसिलिटी सेंटर से जो आय होगी, उसी से इसका संचालन होगा। साथ ही इस आय का कुछ हिस्सा ग्राम पंचायत के विकास पर भी खर्च किया जाएगा। ये होगा फैसिलिटी सेंटर में

लड़मादा गांव में फतेहपुर सीकरी रोड पर प्रस्तावित कामन फैसिलिटी सेंटर में हैंडीक्राफ्ट, जूता और मूर्ति कारीगरों के लिए रिटेल आउटलेट, वर्कशाप, प्रदर्शनी हाल, कैफेटेरिया आदि होंगे। कामन फैसिलिटी सेंटर योजना को स्वीकृति मिल गई है। जल्द ही टेंडर प्रक्रिया पूरी कर इसके निर्माण का काम शुरू हो जाएगा। इससे ग्राम पंचायत तो सशक्त होगी ही, कारीगर भी लाभांवित होंगे।

भीमजी उपाध्याय, परियोजना निदेशक, ग्राम्य विकास अभिकरण

Edited By: Jagran