आगरा, जेएनएन। यह सिस्‍टम के सताए लोग हैं। पड़ोसी ने मारपीट की। पुलिस से मदद की आस में पति-पत्‍नी फरियाद लेकर थाने पहुंचे। पुलिस रिपोर्ट दर्ज कराने की बजाय आनाकानी करते हुए टरकाती रही। सरेआम अपमान और पुलिस की ओर से मरहम न मिलने पर व्‍यथित दंपती ने बुधवार को ऐसा कदम उठा लिया कि शासन-प्रशासन समेत पूरे सिस्‍टम पर सवाल उठा दिए। इस घटना के बाद हरकत में आई पुलिस ने देर रात दंपती से मारपीट करने के आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। वहीं एडीजी अजय आनंद भी रात को मथुरा पहुंच गए। तीन पुलिसकर्मी निलंबित किए गए हैं। 

बुधवार सुबह थाना परिसर में पहुंचकर दंपती ने केरोसिन उड़ेलकर खुद को आग लगा ली। करीब 50 फीसद जली अवस्‍था में दोनों को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया। हालत गंभीर है। इधर राज्‍यपाल आनंदी बेन पटेल भी आज मथुरा में हैं। घटना को लेकर हड़कंप मच गया है। आइजी ए. सतीश गणेश के साथ रैपिड एक्‍शन फोर्स (RAF) मौके पर पहुंच गई है। IG ने चौकी प्रभारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

रोंगटे खड़े कर देने वाली यह घटना बुधवार सुबह मथुरा के सुरीर थाना में हुई। सुरीरकलां निवासी जोगेंदर सिंह की पत्नी चंद्रवती से 23 अगस्‍त को मुहल्ले की एक व्यक्ति ने मारपीट की थी। इस प्रकरण में पुलिस ने चंद्रवती का मेडिकल कराया, लेकिन एफआइआर दर्ज नहीं की। आरोपित पर कार्रवाई के लिए दंपती रोजाना थाने के चक्कर भी लगा रहे थे। बुधवार सुबह दंपती घर से मिट्टी का तेल डालकर 15 वर्षीय बेटे जगदीश के साथ थाने पहुंच गए। दंपती से मिट्टी के तेल की गंध आने से पुलिसकर्मियों में खलबली मच गई। पुलिसकर्मियों के मामले की जानकारी करने पर दंपती ने आग लगा ली। इस घटना से थाने में अफरा-तफरी मच गई। पुलिसकर्मियों ने कंबल और पानी डालकर किसी तरह आग बुझाई।

आग बुझाने तक दंपति करीब 50 फीसद जल चुके थे। घटना की जानकारी होने पर एसएसपी शलभ माथुर सहित अन्य अधिकारी भी थाने पहुंच गए। थाना प्रभारी अनूप सरोज ने बताया कि यह प्रकरण संज्ञान में नहीं था। थाना परिसर में इस घटना की खबर लगने पर आगरा से आइजी ए.सतीश गणेश भी रवाना हो गए। गांव में रैपिड एक्‍शन फोर्स को तैनात किया गया है। आइजी ने कहा है कि इस घटना की जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी। प्रथम दृष्‍टया चौकी इंचार्ज दीपक नागर की लापरवाही सामने आई है, उन्‍हें निलंबित कर दिया गया है।

बेटे को वीडियो बनाने को ले गए थे साथ
दंपती की व्‍यथा का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि वे थाना परिसर में आत्‍मदाह करने के दौरान अपने 15 वर्षीय बेटे जगदीश को साथ लेकर आए थे। बेटे से उन्‍होंने कहा था कि जब वे आत्‍मदाह करें तो वीडियो बनाते रहना, ताकि पूरी दुनिया के सामने पुलिस की अनदेखी सामने आ सके। मां-बाप के जलने के दौरान बेटा बिलखता रहा और वीडियो बनाता रहा। घटना के कुछ समय बाद ही यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

ये कहा एसएसपी ने
एसएसपी शलभ माथुर ने कहा जांच में सामने आया है कि दंपती की तहरीर आई थी। महिला का मेडिकल भी कराया गया था लेकिन उसके बाद भी रिपोर्ट दर्ज न करने पर चौकी इंचार्ज दीपक नागर को तत्‍काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। दंपती को उपचार के लिए नयति अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस की एक टीम को गांव में आरोपित की गिरफ्तारी के लिए भेजा गया है।

यू-ट्यूब से तुरंत हटाया गया वीडियो
थाना परिसर में दंपती के आत्‍मदाह का वीडियो देखते ही देखते वायरल हो गया। किसी ने इसे यू-ट्यूब पर अपलोड कर दिया। वहां से ये वाट्सएप पर दनादन शेयर होने लगा। यह बात सुबह तकरीबन 11 बजे की रही होगी। दोपहर 12 बजे के करीब यू-ट्यूब से ये कंटेंट हिंसात्‍मक कंटेंट का हवाला देते हुए रिमूव कर दिया गया है।

शाम तक रिपोर्ट मांगी
एडीजी अजय आनंद ने इस प्रकरण की जांच एसपी सिटी मथुरा को सौंपी है। उन्‍होंने शाम तक रिपोर्ट प्रस्‍तुत किए जाने के आदेश किए हैं। एडीजी अजय आनंद ने इंस्‍पेक्‍टर थाना सुरीर अनूप सरोज के खिलाफ कार्रवाई के भी निर्देश दिए हैं।

Posted By: Prateek Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस