Move to Jagran APP

आगरा में भीषण गर्मी और लू का कहर; अस्पतालों में पहुंचे 236 मरीज, 'सुबह 11 से शाम 4 बजे तक बाहर ना निकलें लोग'

Agra News In Hindi Today आगरा में मौसम का असर दिखने लगा है। भीषण गर्मी से अस्पतालों में लू के मरीज पहुंच रहे हैं। वहीं स्वास्थ्य विभाग ने सुबह 11 से शाम चार बजे तक लोगों से बाहर ना निकलने की अपील की जारी की है। बच्चों के साथ ही बुजुर्ग और गर्भवती को खतरा है। डायरिया और उल्टी के मरीजों की संख्या बढ़ी है।

By Ajay Dubey Edited By: Abhishek Saxena Published: Sun, 19 May 2024 08:20 AM (IST)Updated: Sun, 19 May 2024 08:27 AM (IST)
आगरा के अस्पताल में लू के मरीजों की संख्या बढ़ी। (सांकेतिक तस्वीर)

जागरण संवाददाता, आगरा: धूप और लू चलने से हीट स्ट्रोक, उल्टी दस्त के मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है। सरकारी और निजी अस्पताल में मरीज भर्ती हो रहे हैं।एक महीने में लू की चपेट में आने से सरकारी अस्पतालों में 236 मरीज भर्ती हुए। वहीं, एक मरीज गंभीर हालत में भर्ती हुआ है। उसका इलाज चल रहा है।

तापमान 46 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच चुका है। ज्यादा देर तक धूप में रहने से सिर दर्द के साथ ही उल्टी और दस्त की समस्या हो रही है।

एसएन मेडिकल कालेज के बाल रोग विभाग के अध्यक्ष डा नीरज यादव ने बताया कि 45 डिग्री सेल्सियस से अधिक तापमान पहुंचने पर हीट स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है। ज्यादा देर तक धूप में रहने, फास्ट फूड के साथ ही बाजार के खाद्य पदार्थ का सेवन करने से बच्चों को उल्टी, दस्त और बुखार की समस्या हाे रही है। गंभीर हालत में आ रहे बच्चों को भर्ती करना पड़ रहा है। सीएमओ डा अरुण श्रीवास्तव ने बताया कि एक महीने में हीट स्ट्रोक के 237 मरीज भर्ती हुए हैं, 236 मरीज ठीक हो गए हैं। एक मरीज भर्ती है।

ये हैं हीट स्ट्रोक के लक्षण

  • शरीर का तापमान 101 फारेनहाइट से अधिक पहुंचना।
  • पसीना निकलना बंद होना।
  • बेहोशी आ जाना। असमंजस की स्थित बनना
  • हाथ पैरों में दर्द।

ये करें

  • अधिक से अधिक पानी पिएं
  • सफेद और हल्के रंग के कपड़े पहनें
  • धूप में निकलते समय चश्मा और छाते का प्रयोग करें ।
  • दोपहर 11:00 बजे से शाम 4:00 तक घर से बाहर ना निकलें।
  • नीबू शिकंजी, छाल, पना, सत्तू का सेवन करें
  • पेट में मरोड़ , घमोरियां शरीर में कमजोरी आना चक्कर आना सिर में तेज दर्द उबकाई आना जैसे लक्षण सामने आए तो नजदीकी - स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर चिकित्सीय सलाह लें।
  • बाजार के खाद्य पदार्थ का सेवन ना करें

Read Also: Income Tax Raid: आगरा में जूता कारोबारियों के यहां मिला इतना कैश कि हांफ गईं मशीनें, नाेटों की गिनती करते-करते थकी टीम

नगर निगम ने सड़कों पर उतारे वॉटर स्प्रिंकलर

प्रदेश में चल रही हीटवेव से लोगों के साथ ही पेड़ पौधों को राहत देने के उदृदेश्य से शनिवार को नगर निगम ने सड़कों पर वॉटर स्प्रिंकलर उतार दिए हैं। नगर निगम की दर्जनभर से अधिक गाड़ियां प्रतिदिन सुबह और शाम को सड़कों पर पानी का छिड़काव कर रही हैं। वहीं दूसरी ओर निगम नगर निगम द्वारा शहर के पांच स्थानों पर शीतल जल के प्याऊ लगाए जाएंगे।

ये भी पढ़ेंः Husband Wife Dispute: 12th पास पत्नी ने किया गांव में रहने से किया इनकार, पिंक सिटी में पति के साथ रहने की लड़ाई

ताजगंज जोन के जेडएसओ महेश चंद ने बताया कि निगम के वाटर स्प्रिंकलर सुबह के समय सड़क के दोनों ओर निगम द्वारा लगाए और डिवाइडरों के बीच खड़े पेड़ पौधों में पानी लगा रहे हैं। वहीं शाम चार बजे से रात नौ बजे तक ंसड़कों पर पानी का छिड़काव किया जा रहा है।

अपर नगर आयुक्त सुरेंद्र प्रसाद यादव के निर्देश के बाद बाद पानी छिड़काव के लिए कर्मचारियों के रोस्टर बना कर उनकी डयूटी लगाई गयी है। निगम ने शहर के सौंदर्यीकरण और हराभरा रखने के लिए फतेहाबाद रोड़, जमुना किनारा रोड़,भगवान टाकीज से प्रतापपुरा चौराहा तक एमजीरोड, सर्किट हाउस रोड,खंदारी आदि इलाकों में पेड़ पौधे लगाए हैं।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.