आगरा, जेएनएन। दिल्ली में भाजपा को मिली करारी हार से थोड़ा मायूस नजर आए डिप्टी सीएम केशवप्रसाद मौर्य। कहा कि देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के जादू पर कोई संशय नहीं है। दिल्ली में जो भी परिणाम आ रहे हैं, उनकी गहनता से समीक्षा की जरूरत है। 

वृंदावन में ठा. बांकेबिहारी मंदिर में दर्शन के बार पत्रकारों से डिप्टी सीएम केशवप्रसाद मौर्य रूबरू हुए। उन्‍होंने कहा कि दिल्ली के चुनाव के जो भी आंकड़े आए हैं, उनमें वोटों का बहुत कम अंतर है। इसकी समीक्षा होगी और इस पर आगे काम करने की जरूरत है।

दिल्ली के सीएम केजवरीवाल पर हनुमानजी की कृपा के सवाल पर मौर्य ने कहा कि हनुमानजी भगवान हैं। वे सब पर कृपा करते हैं। आप नेता संजय सिंह के आज हिंदुस्तान जीत गया और पाकिस्तान जीत गया के सवाल पर कहा कि अच्छा है कि ऐसे नेताओं को सद्बुद्धि आई। हम चाहते हैं कि हिंदुस्तान हमेशा ही जीते।

इसे पूर्व डिप्टी सीएम केशवप्रसाद मौर्य ने ठा. बांकेबिहारीजी मंदिर में सपरिवार दर्शन कर पूजा-अर्चना की।

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सुबह महावन के रमणरेती आश्रम में सपत्नीक हवन पूजन भी किया था। यहां पर शिव मंदिर में स्थापित शिवलिंग पर अभिषेक किया। विद्वान आचार्यों ने मंत्रोच्चारण के बीच पूजा कराई। करीब एक घंटे तक तक शिव मंदिर में पूजन के बाद वह रमण बिहारी मंदिर पहुंचे। यहां पुजारी ने उनका माल्यार्पण कर स्वागत किया। डिप्टी सीएम मौर्य सोमवार देर रात ही धर्मपत्नी के साथ आश्रम पहुंच गए थे। रात्रि विश्राम आश्रम में ही किया। सुबह आश्रम के महंत कार्ष्णि गुरु शरणानंद के साथ कुटिया के अंदर हवन और पूजन किया। इसके बाद कुटिया से बाहर निकलकर शिव मंदिर के शिवलिंग पर अभिषेक किया। डिप्टी सीएम ने रमण बिहारी के सामने दंडवत प्रणाम कर आशीर्वाद लिया। मंदिर परिसर के पीछे भगवान बिहारी का रमणीक स्थल रमणरेती है। यहां भगवान श्री कृष्ण ने रेत में लोटकर लीलाएं की थीं। यहां श्रद्धालु अपने मकानों की आकृति बनाकर भगवान श्रीकृष्ण से मकान बनाने का आशीर्वाद मांगते हैं। हाथों की मुट्टी बनाकर बनाकर रमणरेती में रखकर भगवान रमण बिहारी के पदचिन्ह बनाते हैं। मान्यता है कि इससे उन्हें मनवांछित फल की प्राप्ति होती है। डिप्टी सीएम ने भी धर्मपत्नी के साथ मंदिर परिसर के पीछे रमणरेती में हाथों की मुट्ठी बनाकर भगवान श्रीकृष्ण के पैरों के चिन्ह बनाए।

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस