आगरा, जागरण संवाददाता। आगरा के जगनेर में बुजुर्ग व्यापारी को हनी ट्रैप का शिकार बना पांच लाख रुपये वसूल लिए। गिरोह अश्लील तस्वीरें सार्वजनिक करने की धमकी देकर ब्लैकमेल कर रहा था। व्यापारी से 15 लाख रुपये और मांग रहा था। पीड़ित के शिकायत करने पर जगनेर पुलिस ने गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया। गिरोह की सदस्य धौलपुर की 30 वर्षीय युवती और उसके कथित पति को पुलिस तलाश कर रही है। बताया जाता है कि गिरोह ने कई व्यापारियों को अपना निशाना बनाया है।

बाइक सवार ले गए थे जंगल में

क्षेत्राधिकारी खेरागढ़ महेश कुमार ने बताया कि जगनेर के रहने वाले 58 वर्षीय व्यापारी केशव सिंह ने शिकायत की थी। व्यापारी ने पुलिस को बताया कि उनकी जगनेर मंडी में आढ़त है। वह तीन नवंबर की शाम को वह बाइक से घर आ रहे थे। तांतपुर मार्ग पर गांव भुम्मा मोड़ पर मनीष पहलवान, भूपेंद्र शर्मा और रूपेंद्र ने रोक लिया। उन्हें अपने साथ जंगल में लेकर गए। वहां एक युवती मौजूद थी। तीनों ने उनके मुंह पर कुछ डाल दिया। वह अपनी सुधबुध खो बैठे।

युवती के साथ बनाई अश्लील तस्वीरें

आरोपितों ने बेसुध हालत में युवती के साथ उनकी आपत्तिजनक तस्वीरें खींच लीं। होश आने पर उन्हें तस्वीरें दिखाईं। जिन्हें सोशल मीडिया में वायरल करने की धमकी देकर पांच लाख रुपये मांगे। उन्होंने एक परिचित से रुपये मांगे। तीनों उसे अपने साथ परिचित के यहां लेकर गए। रुपये मिलने के बाद रास्ते में उनसे छीन लिया। आरोपितों ने पिछले दिनों उन्हें दोबारा रास्ते में रोक लिया। बदनाम करने और जान से मारने की धमकी देकर 15 लाख रुपये मांगे।

हनी ट्रैप का निकला मामला

व्यापारी ने पुलिस को बताया कि उनके पास इतनी रकम नहीं थी। आरोपितों को सबक सिखाने के लिए उन्होंने पुलिस में शिकायत करने का साहस किया। सीओ के अनुसार पुलिस ने छानबीन शुरू कि ताे मामला हनी ट्रैप का निकला। पुलिस को पता चला कि धौलपुर के बसेड़ी की रहने वाली युवती और उसका कथित पति भी इस गिरोह में शामिल है।युवती अधिक आयु वाले संपन्न लोगों को फोन करके अपने जाल में फंसाती है।

युवती मिलने के बुलाती थी और फंसाती थी लोगों को

युवती उन्हें मिलने के लिए बुलाती है। यहां पर उसके साथी पहले से मौजूद रहते हैं। वह हनी ट्रैप में फंसे व्यक्ति की अश्लील तस्वीरें खींच लेते हैं। जिसके बाद उसे ब्लैकमेल कर रुपये वसूलते हैं। बताया जाता है कि गिरोह ने कई लोगाें को हनी ट्रैप का शिकार बनाया है। बदनामी के डर से कोई पुलिस के पास नहीं गया। व्यापारी केशव के साहस दिखाने के चलते गिरोह को पकड़ा गया।

ये भी पढ़ें...

World Heritage Week: आगरा में है महाबत खां की बेटी का मकबरा, मुगल शहंशाह जहांगीर को जिसने बनाया था बंदी

आरोपितों को जेल भेजा

सीओ खेरागढ़ महेश कुमार ने बताया कि पुलिस ने भूपेंद्र शर्मा निवासी गांव मेवली जगनेर और रूपेंद्र निवासी गांव भुम्मा जगनेर को जेल भेजा है। आरोपितों के विरुद्ध बंधक बनाने, चौथ वसूली, गाली-गलौज, मारपीट जान से मारने की धमकी देने की धाराओं में अभियोग दर्ज किया गया है। धौलपुर के थाना बसेड़ी क्षेत्र की रहने वाली युवती व उसके कथित पति को भी आरोपित बनाया जाएगा।

मोबाइल से फाेटो कर दिए थे डिलीट

पुलिस ने आरोपितों के मोबाइल कब्जे में ले लिए हैं। उन्होंने व्यापारी की तस्वीरें माेबाइल से डिलीट कर दी थीं। पुलिस के अनुसार डाटा रिकवरी के लिए आरोपितों के मोबाइल को विधि विज्ञान प्रयोगशाला भेजा जाएगा। 

Edited By: Abhishek Saxena

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट