आगरा, जागरण संवाददाता। आगरा में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री के आसपास स्थिर है लेकिन अधिकतम तापमान में गिरावट का दौर शुरू हो गया है। अधिकतम तापमान के सामान्य से नीचे आने के चलते ही ठंड का अहसास बढ़ गया है। अब दोपहिया वाहनाें पर रात के समय दस्तानाें की जरूरत महसूस होने लगी है। बुधवार सुबह बाहरी इलाकाें में धुंध देखने को मिली। मौसम विभाग का कहना है कि दिसंबर के पहले सप्ताह में तापमान में बड़ी गिरावट देखने को मिलेगी।

मौसम विभाग का कहना है कि पहाड़ाें पर हो रही बर्फबारी के चलते मैदानी इलाकाें में तापमान में गिरावट आ रही है। साथ ही पश्चिमी विक्षोभ के गुजरने के बाद ठंडी हवा चलेगी। यह पांच से दस किमी प्रति घंटा होगी। इससे दिन और रात के तापमान में कमी आएगी। ठंड बढ़ती जाएगी। मौसम विभाग के निदेशक डा. दानिश ने बताया कि फिलहाल हवा की दिशा में कोई बदलाव नहीं आएगा। यह पश्चिमी दिशा से चलेगी। पहाड़ी क्षेत्रों में हो रही बर्फबारी के चलते हवा में नमी की मात्रा अधिक है।

10 डिग्री से. के करीब पहुंचा तापमान

पश्चिमी विक्षोभ के गुजरने का असर एक बार फिर से दिखना शुरू हो गया है। बुधवार को सुबह न्यूनतम तापमान 10.7 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ है, जो सामान्य ही था। मौसम विभाग का कहना है कि अब धूप में हल्कापन आने लगा है, मंगलवार को अधिकतम तापमान 25.1 डिग्री रहा था, ये सामान्य दो डिग्री कम था। दिसंबर के पहले सप्ताह में ही इसमें बड़ी गिरावट देखने को मिल सकती है।

एक और पश्चिमी विक्षोभ हो रहा है विकसित

राजस्थान और आगरा के बार्डर पर एक और पश्चिमी विक्षोभ बन रहा है। यह विक्षोभ दो सप्ताह में पूरी तरह से बनकर तैयार होगा। फिर इसका असर मौसम पर पड़ना शुरू होगा।

सुबह रहेगी हल्की धुंध

आगामी तीन से पांच दिनों तक सुबह हल्की धुंध रहेगी। हालांकि शाम को धुंध का असर नहीं रहेगा।

आगामी दिनों का न्यूनतम और अधिकतम तापमान (डिग्री से. में)

30-Nov 10.0 26.0

01-Dec 10.0 27.0

02-Dec 10.0 26.0

03-Dec 10.0 26.0

04-Dec 10.0 26.0

05-Dec 10.0 26.0

Edited By: Prateek Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट