Move to Jagran APP

आगरा में चांदी व्यवसाई की पत्नी की हत्या व लूट का पर्दाफाश, पुराने किराएदार ने कर्जा हाेने पर रचा था षड्यंत्र

Agra Crime News In Hindi Today घर पर पुराने किराएदार का बेरोकटोक आना था। कैलाश ने दो साथियों संग की थी वारदात। गिरफ्तार बदमाश मोहन निवासी कटरा वजीर खां है। फरार तीसरे बदमााश का नाम सोनू है वह मथुरा का रहने वाला है। पुलिस ने आरोपितों से लूटे गए नकदी-जेवरात बरामद किए हैं। आरोपित घर से कुछ नकली जेवरात भी लूटकर भाग गए थे।

By Jagran News Edited By: Abhishek Saxena Published: Tue, 28 May 2024 07:13 AM (IST)Updated: Tue, 28 May 2024 07:13 AM (IST)
Agra News: मृतका का फाइल फोटो और पुलिस मुठभेड़ में पकड़ा आरोपित।

जागरण संवाददाता, आगरा। कमला नगर के आदर्श नगर में चांदी व्यवसाई के घर में घुसकर लूटपाट के दौरान पत्नी मंजू गुप्ता की हत्या और लूट का सोमवार देर रात पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया। लूट और हत्या की वारदात काे पुराने पड़ोसी कैलाश अग्रवाल ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर अंजाम दिया था।

पुलिस ने मुठभे़ड में दोनों बदमाशों को दबोच लिया। भागने की कोशिश करते दोनों बदमाशों के पैर में गोली लगी है। घटना में शामिल तीसरे बदमााश की तलाश में दबिश दी जा रही है।

लूटपाट के दौरान की थी हत्या

न्यू आदर्श नगर टीला स्थित अपार्टमेंट सुनील सदन में रविवार को चांदी व्यवसाई प्रेम प्रकाश गुप्ता की पत्नी मंजू गुप्ता की लूटपाट के दौरान हत्या कर दी गई थी। बदमाशों ने मंजू का गला दुपट्टे से घोट दिया था। वारदात के तरीके से पुलिस काे पहले दिन से हत्याकांड में परिचित का हाथ होने का शक था। फ्लैट के दरवाजे बिना किसी विवाद के खुले थे। दरवाजा खोलने के बाद मंजू गुप्ता रसेाई में खाना बनाने चली गई थीं। रसोई में ही बदमाशों ने उनका दुपट्टे से गला घोट दिया था। इसके बाद आराम से लूटपाट करके नकदी-जेवरात ले गए थे।

सौ से अधिक सीसीटीवी खंगाले थे

पुलिस ने रविवार रात से सोमवार सुबह तक इलाके में लगे 100 से अधिक सीसीटीवी फुटेज खंगाले थे। छानबीन में पता चला कि चांदी व्यवसाई के बराबर वाले फ्लैट में कैलाश अग्रवाल अपने परिवार के साथ रहता था। उसने हाल ही में अपना फ्लैट बदला था। आदर्श नगर बल्केश्वर में परिवार के साथ किराए पर रहने लगा था।

ये भी पढ़ेंः Agra: बाइक पर लिफ्ट लेकर लड़की गले पड़ गई! पुलिस के पास पहुंचकर बोली- ये मेरा...फैमिली काउंसलर भी हैरान

चांदी व्यवसाई के घर पर कैलाश को बेरोकटोक आना-जाना था। वह व्यवसाई और उनके परिवार के बारे में एक-एक बात जानता था। डांस अकादमी रविवार को बंद रहती है। प्रेम प्रकाश की 12 वर्षीय मानसिक रूप से दिव्यांश धेवती कुछ बोल और बता नही पाती है। आरोपित सारी बात जानता था।

ये भी पढ़ेंः राजा मंडी स्टेशन पर प्रेमी से झगड़े के बाद केरला एक्सप्रेस के आगे कूदी महिला, लिव इन में किशाेर के साथ रह रही थी

पुलिस घर पहुंची तो फरार हुआ

छानबीन में कैलाश अग्रवाल का पता चलने पर पुलिस उसके घर पहुंची तो वह फरार था। पत्नी ने पुलिस काे बताया था कि कैलाश रविवार शाम साढ़े सात बजे घर घर आया था। वह काफी घबराया हुआ था। बैग में कपड़े व सामान आदि लेकर निकल गया था। पत्नी से कहा गया था कि उससे गलती हो गई है, वह अब लौटकर नहीं आएगा। पुलिस उसकी तलाश में दबिश दे रही थी।

रात में हुआ एनकाउंटर

पुलिस को सोमवार रात एक बजे तीनों बदमाशों के कमला नगर इलाके में होने की सूचना मिली। पुलिस ने कैलाश अग्रवाल और उसके साथी मोहन की घेराबंदी कर ली। दोनों ने फायरिंग कर भागने का प्रयास किया। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में दोनों आरोपितों के पैर में गोली लगी है।

डीसीपी सिटी सूरज कुमार राय ने बताया कि लूट और हत्या का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने दो आरोपितों कैलाश अग्रवाल और मोहन काे गिरफ्तार किया है। उनके फरार साथी की तलाश जारी है।

हड़बड़ाहट मे नकली जेवरात भी लूट गए

मुख्य आरोपित कैलाश अग्रवा ने पुलिस को बताया कि वह निर्माण साइट पर काम करने वाले मजदूरों का सुपरवाइजर था। उस पर काफी कर्जा हो गया था। कर्जा देने वाले लगातार उससे तकादा कर रहे थे।चांदी व्यवसाई प्रेम प्रकाश के यहां उसका आना-जान था। उसे पता था कि मंजू गुप्ता के पास लाखों के नकदी-जेवरात हैं। लूटपाट के बाद मंजू गुप्ता की हत्या कर दी। इसके बाद अलमारियों में जो भी जेवरात मिले, लूट ले गए। बाद में पता चला इनमें से कई जेवरात नकली थे।   


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.