नई दिल्ली (टेक डेस्क)। स्मार्टफोन और विंडोज पीसी के लिए प्रोसेसर बनाने वाली कंपनी क्वालकॉम ने 10,000 रुपये से कम कीमत के स्मार्टफोन्स के लिए तीन नए स्नैपड्रैगन प्रोसेसर 632,429 और 439 बनाने की घोषणा की है। ये तीनों ही चिपसेट 600 और 400 सीरीज के नेक्सट जेनरेशन प्रोसेसर हैं। इन तीनों प्रोसेसर को हाई परफार्मेंस के लिए बनाया गया है। कंपनी के दावे के मुताबिक ये तीनों ही प्रोसेसर स्मार्टफोन में बैटरी की परफार्मेंस को उम्दा बनाएंगे। इसके अलावा इनके डिजाइन में भी बदलाव किया गया है, जिसकी वजह से ये पतले स्मार्टफोन में भी आसानी से फिट हो सकते हैं। साथ ही, ये प्रोसेसर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस फीचर्स को भी सपोर्ट करेंगे। आइए जानते हैं इन तीनों प्रोसेसर की खासियत के बारे में
 
स्नैपड्रैगन 632
 
क्वालकॉम के मुताबिक इस प्रोसेसर को बेहतर परफार्फेंस देने के लिए बनाया गया है। इसके अलावा यूजर्स इस प्रोसेसर से बेहतर गेमिंग एक्सपीरियंस का आनंद उठा सकते हैं। इतना ही नहीं इस प्रोसेसर से लैस स्मार्टफोन में स्नैपड्रैगन 625 और 626 की तरह ही 4K वीडियो कैप्चर किया जा सकेगा। यह प्रोसेसर बजट स्मार्टफोन में भी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, फास्ट प्रोसेसिंग स्पीड और बेहतर LTE कनेक्टिविटी की सुविधा प्रदान करेगा। इसके अलावा यह इमेज सेंसर, कैमरा हार्डवेयर को सपोर्ट करेगा।
 
स्नैपड्रैगन 439 और 429
 
इन दोनों प्रोसेसर को ज्यादा डिमांड वाले स्मार्टफोन के लिए बनाया गया है। इन प्रोसेसर को 10,000 और 5,000 रुपये के प्राइस रेंज के स्मार्टफोन में इस्तेमाल किया जाएगा। इन प्रोसेसर्स को भी कम बजट के स्मार्टफोन में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, पावर इफिशियंसी और बेहतर कैमरा फीचर को सपोर्ट करने के लिए बनाया गया है। इसके साथ ही यह प्रोसेसर कम बजट के स्मार्टफोन की सुरक्षा प्रणाली को उतकृष्ट करेगा। कंपनी के दावों के मुताबिक इस प्रोसेसर की वजह से स्मार्टफोन की परफार्मेंस 25 प्रतिशत तक बढ़ जाएगी।
 
क्वालकॉम के प्रोडक्ड मैनेजमेंट के वाइस प्रेसिडेंड केदार कोंडप ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, 'नोकिया, शाओमी रेडमी और मोटो जैसे कम बजट वाले स्मार्टफोन्स में इन प्रोसेसर्स का इस्तेमाल किया जाएगा। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक क्वालकॉम ने 5,000 रुपये से लेकर 10,000 रुपये के बीच के बजट स्मार्टफोन को ध्यान में रखकर इन प्रोसेसर्स को बनाया गया है। क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 632, 439 और 429 चिपसेट प्रोसेसर ज्यादा डिमांड वाले स्मार्टफोन की बैटरी क्षमता बढ़ाने के साथ-साथ आसानी से रन करने में मदद करेंगे। इसके अलावा ये प्रोसेसर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस हैं, जिसकी वजह से इनमें कम बजट के स्मार्टफोन में कनेक्टिविटी की समस्या भी नहीं आएगी।
 
यह भी पढ़ें

Posted By: Harshit Harsh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस