नई दिल्ली (टेक डेस्क)। सेक्रेड गेम्स एवं अन्य वेब सीरीज और इंटरनेशनल मूवीज के लिए लोकप्रिय वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म Netflix का पासवर्ड शेयर करना अब मुमकिन नहीं होगा। हाल ही में संपन्न हुए CES 2019 में एक ब्रिटिश फर्म Synamedia ने एक नया सॉफ्टवेयर शोकेश किया है जो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के लैस होगा और Netflix-Amazon Prime जैसे वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म के शेयर किए गए पासवर्ड को ट्रैक करेगा।

CES 2019 में Synamedia ने बताया कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग और व्यावहारिक विशलेषण की मदद से यह सॉफ्टवेयर किसी भी वीडियो स्ट्रीमिंग अकाउंट के शेयर किए गए क्रेडेंशियल्स को ट्रैक कर सकेगा। यह सॉफ्टवेयर रियल टाइम डैशबोर्ड की मदद से शेयरिंग एक्टीविटी को ट्रैक करेगा।

इस तरह करेगा काम

Netflix-Amazon Prime जैसे वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म इसके लिए Synamedia का यह सॉफ्टवेयर इस्तेमाल करेगा जो क्रेडेंशियल्स शेयरिंग को ट्रैक कर सकेगा। क्रेडेंशियल्स शेयरिंग को ट्रैक करने के लिए यह सॉफ्टवेयर कई पहलूओं का विश्लेषण करेगा, जिसमें प्लेटफॉर्म का लोकेशन, अकाउंट की डिटेल्स, डिवाइस की जानकारी शामिल है। इसके बाद इन डिवाइस या अकाउंट को यह सॉफ्टेवयर फ्लैग ऑफ कर देगा यानी की ब्लॉक कर देगा। इन सभी जानकारियों की मदद से यह सॉफ्टवेयर पता लगा सकेगा कि इस्तेमाल किए जाने वाला अकाउंट सही है या नहीं।

Synamedia के CPO जीन मार्क रेसिन ने बयान जारी करके कहा, कैजुअल क्रेडेंशियल्स शेयरिंग को इग्नोर करना काफी मुश्किल है। हमारा यह नया सॉफ्टवेयर इन वीडियो स्ट्रीमिंग प्रोवाइडर्स को इन सब कैजुअल क्रेडेंशियल्स को रोकने में मदद करेगा। कई कैजुअल यूजर्स को इन वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म की सेवा लेने के लिए प्रीमियम सब्सक्रिप्शन लेना पड़ेगा। 

यह भी पढ़ें:

Google Pixel 3 Lite सीरीज की वीडियो लॉन्च से पहले हुई लीक, देखें कैसा होगा फोन

BSNL 299 रुपये में दे रहा 1.5GB डाटा प्रतिदिन समेत वॉयस कॉलिंग बेनिफिट, पढ़ें प्लान डिटेल्स

Samsung Galaxy M10 और Galaxy M20 की डिजाइन डिटेल हुई लीक, पढ़ें डिटेल्स

Posted By: Harshit Harsh