Move to Jagran APP

Israel Hamas War: युद्ध के बीच Elon Musk के X हैंडल पर लटकी तलवार, भ्रामक जानकारियों को लेकर पड़ी EU से फटकार

Israel Hamas WarIsrael Hamas War इजराइल में हमास के बंदूकधारियों के उत्पात के बाद से ही सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर गलत और भ्रामक जानकारियों के फैलने का खतरा बढ़ गया है। इसी कड़ी में पॉपुलर प्लेटफॉर्म एक्स हैंडल भी गलत और भ्रामक जानकारियों को फैलाने के लिए यूरोपियन यूनियन की नजर में आ गया है। एक्स हैंडल के मालिक एलन मस्क पर यूरोपियन यूनियन का गुस्सा निकला है।

By Shivani KotnalaEdited By: Shivani KotnalaPublished: Wed, 11 Oct 2023 03:10 PM (IST)Updated: Wed, 11 Oct 2023 03:10 PM (IST)
Israel Hamas War: युद्ध के बीच Elon Musk के X हैंडल पर लटकी तलवार, पड़ी EU से फटकार

टेक्नोलॉजी डेस्क, नई दिल्ली। Israel Hamas War: इजराइल में हमास के बंदूकधारियों के उत्पात के बाद से ही सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर गलत और भ्रामक जानकारियों के फैलने का खतरा बढ़ गया है।

इसी कड़ी में पॉपुलर प्लेटफॉर्म एक्स हैंडल भी गलत और भ्रामक जानकारियों को फैलाने के लिए यूरोपियन यूनियन की नजर में आ गया है। एक्स हैंडल के मालिक एलन मस्क पर यूरोपियन यूनियन का गुस्सा निकला है।

मस्क को EU से मिली फटकार

यूरोपियन यूनियन कमिशनर Thierry Breton ने एक्स हैंडल पर एक लेटर पोस्ट किया। इस लेटर के मुताबिक मंगलवार को Thierry Breton ने मस्क को गलत जानकारियों को फैलाने को लेकर चेतावनी दी।

उन्होंने कहा कि एक्स हैंडल पर अवैध और गलत जानकारियों का प्रचार-प्रसार किया जा रहा है।

EU इंटरनेट के नियम-कानूनों को लेकर सख्त रहा है। ऐसे में इन कानूनों के लिए यूरोपियन यूनियन को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की जरूरत होती है, ताकि भ्रामक और गलत जानकारियों को फैलने से रोका जा सके।

कौन-सी गलत जानकारियां फैलाई जा रही हैं

रॉयटर्स की फैक्ट चेक टीम की एक रिपोर्ट की मानें तो युद्ध के बीच अमेरिकी सरकार का एक डॉक्युमेंट एडिट कर सोशल मीडिया पर फैलाया गया। यह डॉक्युमेंट इजराइल को अमेरिकी सरकार से 8 बिलियन डॉलर का मिलिट्री फंड देने जैसा अप्रूवल था।

इसी तरह अमेरिकन सिंगर (Bruno Mars) के एक कॉन्सर्ट को भी गलत कैप्शन के साथ सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर फैलाया गया। गलत जानकारी दी गई कि यह फुटेज इजराइली म्यूजिक फेस्टिवल का है, जिस पर हमास ने अटैक किया।

एक्स का कम्युनिटी नोट्स फीचर भी बेअसर

एक्स के कम्युनिटी नोट्स फीचर को लेकर भी कहा गया कि गलत जानकारियों की सूचना तो दी गई, लेकिन तब तक हजारों यूजर्स इन खबरों को पढ़ चुके थे। ऐसे में एक्स के कम्युनिटी नोट्स फीचर का भी कोई खास फायदा गलत जानकारियों को फैलने से रोकने में नजर नहीं आ रहा।

इसके जवाब में एक्स ने एक पोस्ट के जरिए जानकारी दी कि कम्युनिटी नोट्स फीचर के साथ एक्स यूजर्स को कंटेंट पोस्ट करने के मात्र कुछ मिनटों में ही गलत होने की जानकारी दे दी जाती है।

हालांकि, कई बार कंपनी के लिए भी इतने बड़े प्लेटफॉर्म पर सभी कंटेंट को चेक करना कुछ मुश्किल होता है।

शोधकर्ताओं को भी आ रही परेशानी

एक्स हैंडल पर गलत और भ्रामक जानकारियों को जांचने में शोधकर्ताओं को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। शोधकर्ता अब कीवर्ड, हैशटैग और रियल-टाइम की खबरों से जुड़ी जानकारियों को ऑटो ट्रैक नहीं कर पाते हैं।

इसकी सबसे बड़ी वजह है कि एक्स पर डेटा टूल का एक्सेस नहीं मिलता है। वहीं मस्क के आने से पहले अधिकतर सुविधाएं फ्री हुआ करती थीं।

अटलांटिक काउंसिल की डिजिटल फोरेंसिक रिसर्च लैब के रेजिडेंट फेलो Ruslan Trad की मानें तो एक्स पर उन्हें जानकारियों को मैन्युअली चेक करने की जरूरत होती है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.