नई दिल्ली (टेक डेस्क)। भारत चीन के बाद स्मार्टफोन यूजर्स की संख्या में दूसरा सबसे बड़ा देश बन गया है। लेकिन, सबसे बड़ी चौंकाने वाली बात यह है कि इतनी बड़ी संखया में स्मार्टफोन यूजर्स होने के बावजूद भी इंटरनेट यूजर्स के मामले में काफी पीछे है। Pew Research Center द्वारा किए गए सर्वे के मुताबिक देश के केवल 25 फीसद लोग ही इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं। रिसर्च सेंटर ने हाल ही में 39 देशों का सर्वे किया था, जिसमें यह आंकड़ा निकलकर सामने आया है। इंटरनेट यूजर्स के मामले में भारत का नाम कुछ छोटे अफ्रीकी देशों के साथ शामिल है।

बीते कुछ सालों में इंटरनेट और स्मार्टफोन यूजर्स की संख्या में जबरदस्त वृद्धि हुई है। इसके बावजूद भी देश की कुल एक-तिहाई आबादी आज भी इंटरनेट का इस्तेमाल नहीं करती है। जो कि भारत जैसे प्रगतिशील देश के लिए एक चिंता का विषय है। एक तरफ दुनियाभर में देश तकनीक और इंटरनेट पर जोर दे रहे हैं वहीं, भारत में डिजिटल इंडिया मुहिम के बावजूद भी इंटरनेट यूजर्स की संख्या में कोई बढ़ोत्तरी नहीं देखी गई है।

आइए, जानते हैं इस सर्वे की कुछ बड़ी बातों के बारे में

  • स्मार्टफोन इस्तेमाल के मामले में भारत नीचे से दूसरे पायदान पर काबिज है।
  • भारत की कुल आबादी के 22 फीसद लोग ही स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं, जो कि एक चिंता का विषय है।
  • 51 फीसद भारतीयों के पास मोबाइल फोन है, लेकिन स्मार्टफोन नहीं है।
  • 26 फीसद भारतीय अभी भी मोबाइल फोन का इस्तेमाल नहीं करते हैं।
  • टेलिकॉम डिपार्टमेंट के आंकड़ों के मुताबिक, देश में कुल 37 प्रतिशत यानी की 456 मिलियन (45.6 करोड़) स्मार्टफोन यूजर्स हैं।
  • पहले नंबर पर काबिज दक्षिण कोरिया में 94 फीसद लोगों के पास स्मार्टफोन है।
  • जबकि, तंजानिया में केवल 13 फीसद लोगों के पास ही स्मार्टफोन हैं।
  • इस सर्वे के मुताबिक देश के 18-36 वर्ष के 35 फीसद युवा और 37 साल से ज्यादा आयुवर्ग के केवल 13 फीसद लोग ही इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं। 

यह भी पढ़ें:

Honor 9N खरीदने पर जीत सकते हैं एक और स्मार्टफोन, बस करना होगा यह काम

सिम कार्ड खो जाने या खराब होने पर, महज कुछ घंटे में हो सकता है चालू

Lenovo का मल्टी फंक्शनल स्मार्ट डिवाइस लॉन्च, Amazon Echo शो को मिलेगी चुनौती

Posted By: Harshit Harsh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस