नई दिल्ली, टेक डेस्क। भारत में जल्द ही 5G नेटवर्क लांच हो सकता है और अधिकतर लोग इस नेटवर्क से जुड़ना चाहते हैं। दरअसल, इंटरनेट स्पीड का पता लगाने वाली वेबसाइट Ookla ने एक सर्व किया है। इस सर्वे से पता चला 89 प्रतिशत भारतीय 5G नेटवर्क पर आना चाहते हैं। 5G अपनाने से स्मार्टफोन पर वीडियो कंटेंट स्ट्रीमिंग, गेमिंग और सोशल मैसेजिंग को बढ़ावा मिलेगा।

क्या कहती है ये रिपोर्ट 

  • नेटवर्क इंटेलिजेंस और कनेक्टिविटी इनसाइट्स प्रदाता Ookla की रिपोर्ट के अनुसार, 20 प्रतिशत भारतीय यूजर्स अपने टेलिकॉम सर्विस के 5G नेटवर्क पर अपग्रेड होने की प्रतीक्षा करेंगे । जबकि 14 प्रतिशत उपभोक्ताओं का इरादा 5G वाले हैंडसेट में अपग्रेड करने के बाद सेवाओं का लाभ उठाने का है। तो वहीं 7 प्रतिशत यूजर्स अपने वर्तमान मोबाइल प्लान के समाप्त होने की प्रतीक्षा करेंगे। जो लोग नई 5G तकनीक से अवगत नहीं हैं, वे संभवतः प्रतीक्षा करेंगे यह देखने के लिए कि एक बार जब अन्य लोग इसका उपयोग करना शुरू कर देते हैं तो यह कितना आकर्षक होता है। इसके अलावा केवल 2 प्रतिशत ने कहा कि वे 5G में अपग्रेड करने का इरादा ही नहीं रखते हैं।
  • यह रिपोर्ट बताती है कि लगभग 42 प्रतिशत यूजर्स का मानना है कि इंटरनेट की वर्तमान प्रदान की जा रही स्पीड में सबसे अधिक सुधार होगा। तेज गति के अलावा, 24 प्रतिशत यूजर्स को अधिक विश्वसनीय कनेक्शन की इच्छा है, जबकि 21 प्रतिशत बेहतर इनडोर कवरेज चाहते हैं।
  • रिपोर्ट में यह भी पता चला है कि 5G में अपग्रेड नहीं करने का मुख्य कारण 5G टैरिफ की कथित लागत है। जिन यूजर्स की 5G में अपग्रेड करने की योजना नहीं है, उन यूजर्स ने कहा कि उन्हें लगता है कि 5G टैरिफ लागत बहुत महंगी होगी। इसके बाद 24 प्रतिशत ने 5G नेटवर्क की अज्ञानता का एक मुद्दा बताया, और 23 प्रतिशत के पास 5G सक्षम फोन ही नहीं था।

Edited By: Kritarth Sardana