नई दिल्ली, टेक डेस्क। WhatsApp दुनिया का पॉपुलर मैसेजिंग ऐप है। इसका अंदाजा गूगल प्ले-स्टोर पर रैंकिंग और डाउनलोडिंग के आंकड़े से लगाया जा सकता है। यही कारण है कि इस प्लेटफॉर्म पर फेक मैसेज, फोटो और वीडियो तेजी से वायरल होते हैं। इन फेक खबरों पर रोक लगाने के लिए व्हाट्सएप सख्त कदम उठा रहा है। ऐसे में हम आपको ऐसी वजहें बताने जा रहे हैं, जिनके कारण आपके व्हाट्सएप अकाउंट पर प्रतिबंध लगाया जा सकता है।

फेक व्हाट्सएप अकाउंट बनाना

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि व्हाट्सएप की गाइडलाइन में साफ लिखा है कि अगर यूजर फेक व्हाट्सएप अकाउंट बनाते हैं, तो व्हाट्सएप उन यूजर्स को हमेशा के लिए बैन कर देगा।

स्पैम मैसेज भेजना

अगर कोई आपकी कॉन्टैक्ट लिस्ट में नहीं है और आप उसे लगातार मैसेज भेजते रहते हैं तो इस स्थिति में व्हाट्सएप आपको हमेशा के लिए बैन कर देगा। आप दोबारा व्हाट्सएप का उपयोग नहीं कर पाएंगे। इतना ही नहीं यदि आप बल्क मैसेजिंग, ऑटो-मैसेजिंग, ऑटो-डायलिंग, और इसी तरह के अवैध या अनुचित कम्युनिकेशन में पाए जाते हैं तो भी आपके अकाउंट पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा।

GBWhatsApp जैसे ऐप का इस्तेमाल करना

WhatsApp Delta, GBWhatsApp और WhatsApp Plus जैसे थर्ड-पार्टी ऐप का इस्तेमाल करने पर व्हाट्सएप आपको हमेशा के लिए बैन कर सकता है। कंपनी का मानना है कि इस तरह के थर्ड-पार्टी ऐप इस्तेमाल करने से यूजर्स का निजी डेटा लीक हो सकता है।

फेक मैसेज और वीडियो सेंड करना

व्हाट्सएप उन यूजर्स के अकाउंट पर सबसे पहले प्रतिबंध लगाता है, जो हिंसा फैलाने के उद्देश से मैसेज भेजते हैं। साथ ही फेक फोटो और वीडियो भेजने वाले यूजर्स को भी ब्लॉक किया जाता है।

Edited By: Ajay Verma