नई दिल्ली (टेक डेस्क)। पिछले सप्ताह ही भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण (ट्राई) और दूरसंचार विभाग (डॉट) ने MNP के नए नियम को लागू कर दिया है। अब, यूजर्स को ऑपरेटर बदलने के लिए 7 दिनों का लंबा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। यूजर अब केवल 2 दिनों के अंदर ही ऑपरेटर को बदल सकते हैं (अगर होम सर्किल में ऑपरेटर बदलना हो)। अगर यूजर को किसी अन्य सर्किल में ऑपरेटर बदलना है तो उन्हें 4 दिनों का समय लगेगा। आइए, आज हम आपको MNP कराने के लिए स्टेप-बाय-स्टेप प्रोसेस के बारे में बताते हैं।

स्टेप 1

सबसे पहले आपको अपने फोन में UPC (यूनिक पोर्टिंग कोड) जेनरेट करना होगा। इसके लिए आपको अपने फोन के मैसेज में जाकर PORT <अपना मोबाइल नंबर> 1900 पर भेजना होगा।

स्टेप 2

इसके बाद आपको 1901 नंबर से एक एसएमएस मिलेगा, जिसमें 8 डिजिट का UPC कोड दिया होगा। इस कोड को आपको दूसरे सर्विस प्रोवाइजर के ऑथोराइज्ड सेंटर में फार्म भरते हुए देना होगा। अगर आप तय समय तक UPC कोड को दूसरे ऑपरेटर के पास नहीं जमा करते हैं तो यह एक्सपायर हो जाएगा। इसके बाद आपको दोबारा UPC कोड जेनरेट करना होगा। UPC कोड की बैधता 7 दिनों की होती है।

स्टेप 3

अगर आपको फोन में आधार पहले से ही लिंक है तो आपको आधार कार्ड की फोटोकॉपी और अपना फोटोग्राफ दूसरे ऑपरेटर के पास जमा करना होगा। इसके अलावा आप अन्य डॉक्यूमेंट जैसे की वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट आदि का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

स्टेप 4

डॉक्यूमेंट्स जमा करते ही आपको दूसरे ऑपरेटर का सिम लेना होगा। इस सिम को आप रिक्वेस्ट रेज करने के 2 दिन के बाद अपने फोन में लगा लें। जैसे ही आपके फोन से पुराने ऑपरेटर का सिग्नल गायब होगा, आपको नया सिम फोन में लगाना होगा। इसके बाद टेलिवेरिफिकेशन कराना होगा। ऐसा करते ही आपका नंबर दूसरे ऑपरेटर के साथ एक्टिवेट हो जाएगा।

यह भी पढ़ें:

नहीं लगाने होंगे दफ्तरों के चक्कर, ड्राइविंग लाइसेंस बनाने से लेकर RC ट्रांसफर करना हुआ ऑनलाइन

अब बिना बॉयोमैट्रिक डाटा शेयर किए ही हो जाएगा Aadhar वेरिफिकेशन, UIDAI ने कर ली तैयारी

LG ने 5 कैमरे वाला स्मार्टफोन V40 ThinQ किया लॉन्च, जानें खास फीचर्स 

Posted By: Harshit Harsh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप