नई दिल्ली, टेक डेस्क। मौजूदा वक्त में आधार कार्ड (Aadhaar Card) आपके सभी डॉक्यूमेंट से लिंक है। ऐसे में आधार कार्ड की किसी भी जगह जरूरत पड़ सकती है। हालांकि जरूरी नहीं है कि आधार कार्ड हर वक्त आपके पास हो। लेकिन अगर वर्चुअल आईडी के तौर पर आधार हर वक्त आपके फोन में आपके साथ मौजूद रह सकता है। ऐसे में इसे से लेकर चलने की जरूरत नहीं होगी। UIDAI की तरफ से आधार कार्ड की Virtual ID जारी की जाती है, जिसे UIDAI वेबसाइट से बनाया जा सकता है। यह 16 डिजिट का नंबर है, जिसे आधार के विकल्प के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकेगा। आधार वर्चुअल आईडी की बैकिंग से लेकर सभी तरह की सुविधाओं के लिए मान्य है।

जानें कैसे ऑनलाइन जनरेट करें आधार Virtual ID

  • यूजर्स को सबसे पहले UIDAI की आधिकारिक वेबसाइट https://www.uidai.gov.in. पर विजिट करना होगा। 
  • फिर लॉगइन के बाद आधार सर्विस में जाकर Virtual ID पर क्लिक करना होगा।
  • फिर एक पेज ओपन होगा, जिसमें आपको 16 डिजिट का आधार नंबर दर्ज करना होगा। 
  • इसके बाद सिक्योरिटी कोड डालकर OTP जनरेट करना होगा। 
  • यह OTP आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आएगा।
  • ओटीपी सब्मिट करने के बाद Generate VID ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। 
  • फिर VID जनरेट होने का मैसेज आ जाएगा।
  • आधार Virtual ID दूसरी Virtual ID बनने के पहले तक वैध रहती है। 

जानें क्या है वर्चुअल आईडी?

वर्चुअल आईडी एक 16 अंकों का विशिष्ट नंबर है। साधारण शब्दों में कहें, तो वर्चुअल आईडी सरकार की तरफ से प्रमाणित आधार की इंटरनेट कॉपी होती, जिसे ओरिजनल आधार की तरह जरूरी सेवाओं के लिए इस्तेमाल में लाया जा सकता है। आधार वर्चुअल आईडी की वैधता आमतौर पर एक दिन की होती है। लेकिन जब तक दूसरी वर्चुअल आईडी नहीं क्रिएट की जाती है, तब तक पुरानी वर्चुअल आईडी मान्य होती है। आधार वर्चुअल आईडी की वैधता को लेकर फिलहाल कोई समयसीमा निर्धारित नहीं है।