नई दिल्ली, टेक डेस्क। इंस्टेंट मैसेजिंग सर्विस Whatsapp का गलत इस्तेमाल करने वाले यूजर्स पर अब कानूनी कारवाई की जा सकती है। इस बात की जानकारी Whatsapp ने अपने FAQ पोस्ट के जरिए दी है। Whatsapp का कहना है कि एक साथ कई लोगों को मैसेज भेजने या फॉरवर्ड करने, ऑटोमैटेड मैसेज भेजने वाले यूजर्स अगर किसी भी तरह के नियम और शर्तों का उल्लंघन करेगा तो उस पर कानूनी कारवाई की जा सकती है।

7 दिसंबर से होगी कारवाई

Whatsapp अपने FAQ पेज के 'अनऑथराइज्ड यूसेज ऑफ वॉट्सऐप पॉलिसी' सेक्शन में कहा है कि कोई भी यूजर या संस्थान जो एक साथ ढ़ेर सारे यानी बल्क मैसेज भेजेगी या ऑटोमेटेड मैसेज भेजेगी, उसे 7 दिसंबर के बाद से कानूनी कार्यवाही का सामना करना पड़ेगा। हालांकि, Whatsapp ने यह स्पष्ट नहीं किया है कि वह यूजर पर किस तरह की कानूनी कारवाई करेगा।

एक साथ दो Whatsapp ऐप के फीचर वाले स्मार्टफोन Vivo V15 को अमेजन से खरीदने के लिए यहां क्लिक करेंं।

सॉफ्टवेयर टूल के माध्यम से भेजे जा रहे हैं बल्क मैसेज

हाल ही में समाप्त हुए लोकसभा चुनाव के दौरान Whatsapp के मिसयूज की घटना सामने आई थी। इसमें यूजर्स फ्री क्लोन ऐप और सॉफ्टवेयर टूल के माध्यम से Whatsapp पर बल्क मैसेज करते पाए गए। Whatsapp पिछले साल से ही फेक न्यूज और अफवाह फैलने की वजह से केन्द्र सरकार के निशाने पर है। पिछले साल महाराष्ट्र की घटना के बाद से Whatsapp ने विज्ञापन के जरिए यूजर्स को फेक न्यूज और अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए अपील की थी।

Whatsapp ने अब तक उठाए हैं ये कदम

WhatsApp ने फेक न्यूज और अफवाहों को तेजी से वायरल होने से रोकने के लिए अपने ऐप में कई बदलाव किए हैं। ऐप के फॉरवर्डिंग फीचर में हुए बदलाव की वजह से यूजर्स अब एक बार में अधिकतम 5 लोगों को ही कोई मैसेज एक बार में भेज सकते हैं। इस फीचर के जुड़ने के बाद भी कुछ यूजर्स ऐप क्लोनिंग करके और सॉफ्टवेयर टूल के माध्यम से बल्क मैसेज भेज रहे हैं। जिसके बाद WhatsApp ने इन यूजर्स पर कानूनी कारवाई करने का फैसला लिया है। Father's Day के मौके पर अपने पिता को हाल ही में लॉन्च हुए स्मार्टफोन Samsung Galaxy M40 को अमेजन से खरीदने के लिए यहां क्लिक करें।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Harshit Harsh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप